'रूसी दख़ल' पर डोनल्ड ट्रंप के अटॉर्नी जनरल से पूछताछ

  • 25 जनवरी 2018
जेफ सेशंस इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption जेफ सेशंस

अमरीकी अटॉर्नी जनरल जेफ सेशंस से एक जांच के दौरान यह पूछा गया कि 2016 के अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव में क्या रूस ने अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप की मदद की थी.

कहा जा रहा है कि सेशंस, ट्रंप मंत्रिमंडल के ऐसे पहले सदस्य हैं जिनसे इस बाबत पूछताछ की गई है.

अमरीका के डिपार्टमेंट ऑफ़ जस्टिस ने बीबीसी को इसकी पुष्टि की कि पिछले हफ्ते अमरीका के अटॉर्नी से पूछताछ की गई है.

'कथित रूसी दख़ल की जांच चल रही है'

ट्रंप के दामाद का रूस से सांठगांठ से इनकार

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption रॉबर्ट मूलर

अमरीकी चुनाव में रूस के दखल पर चल रही जांच

2016 के चुनाव में कथित तौर पर रूस के दख़ल की जांच एफबीआई के पूर्व निदेशक रॉबर्ट मुलर के नेतृत्व में चल रही है.

मुलर इस बात की भी जांच कर रहे हैं कि ट्रंप ने 2016 की मई में एफबीआई के निदेशक जेम्स कोमी को हटाकर कहीं इस जांच में बाधा डालने का प्रयास तो नहीं किया था.

अमरीकी मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सेशंस से कई घंटों तक पूछताछ की गई. बाद में ट्रंप ने मंगलवार को कहा कि उन्हें इस पूछताछ को लेकर कोई चिंता नहीं थी.

अमरीकी खुफिया समुदाय का यह मानना है कि रूस ने अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव के नतीजे ट्रंप के पक्ष में लाने की कोशिश की, जबकि रूस इससे इंकार करता रहा है.

ट्रंप को हुई थी 'संवेदनशील' जानकारी की पेशकश

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption डोनल्ड ट्रंप के साथ सेशंस

बीबीसी संवाददाता एंथनी जुर्चर, वाशिंगटन से

मुलर की जांच अब ट्रंप के मंत्रिमंडल तक पहुंच गई है. जेफ सेशंस जब ट्रंप के चुनावी अभियान के वरिष्ठ सलाहकार थे तो उनके संपर्क रूस से थे.

सेशंस के पास इसकी जानकारी भी हो सकती है कि एफबीआई के निदेशक जेम्स कोमी को क्यों हटाया गया.

उपराष्ट्रपति माइक पेन्स, खुद ट्रंप और उनकी बेटी इवांका समेत ट्रंप प्रशासन और उनके चुनावी अभियान से जुड़े कुछ चुनिंदा लोग ही हैं. हाल ही में यह ख़बर भी थी कि इन्हीं में से एक स्टीव बैनन भी मुलर से मिलेंगे.

डोनल्ड ट्रंप के बारे में 10 विस्फोटक दावे

इमेज कॉपीरइट REUTERS
Image caption पूर्व एफबीआई प्रमुख जेम्स कोमी

अब तक किस किस से हुई पूछताछ?

मुलर की जांच में अब तक कौन कौन से लोगों से पूछताछ हो चुकी है, यह सार्वजनिक रूप से पता नहीं है. हालांकि कुछ नाम ज़रूर सामने आए हैं.

इनमें कोमी का नाम भी शामिल है. रिपोर्ट्स के मुताबिक एफबीआई प्रमुख के पद से हटाए जाने के बाद कोमी से भी पूछताछ हो चुकी है.

अमरीकी न्यूज़ वेबसाइट एक्सोस के मुताबिक स्टीव बैनन के एक सहयोगी जॉर्ज नादेर जिनकी मध्य पूर्व में अच्छे कनेक्शन हैं, उनसे भी कम से कम दो बार पूछताछ की गई थी.

ट्रंप पुत्र को 'विश्वासघाती' कहने पर गई कुर्सी?

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार माइकल फेन

किन किन पर आरोप लगे हैं?

मुलर की जांच के दौरान अब तक चार लोगों पर आपराधिक आरोप लगाए गए हैं.

राष्ट्रपति के पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार माइकल फेन को रूसी राजदूत से मुलाकात के बारे में एफबीआई से झूठ बोलने का दोषी ठहराया गया.

ट्रंप के चुनावी अभियान के पूर्व प्रचार मैनेजर पॉल मानाफोर्ट के ख़िलाफ़ 12 मामले दर्ज़ किए गए हैं. इनमें यूक्रेन से व्यापारिक सौदे और मनी लॉन्ड्रिंग की साज़िश रचने का मामला भी है.

मानाफोर्ट के एक सहयोगी रिक गेट्स को भी मनी लॉन्ड्रिंग का दोषी पाया गया है.

इसके अलावा चुनावी अभियान के एक अन्य सलाहकार जॉर्ज पापाडोपलस को भी एफबीआई को ग़लत जानकारी देने का दोषी पाया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे