ट्रंप की आलोचना के शिकार एफ़बीआई उपनिदेशक ने पद छोड़ा

  • 30 जनवरी 2018
मैककाबे इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption राष्ट्रपति ट्रंप ने मैककाबे की सार्वजनिक आलोचना की थी.

अमरीका की संघीय जांच एजेंसी एफ़बीआई के उप-निदेशक एंड्रू मैकेब ने इस्तीफ़ा दे दिया है.

राष्ट्रपति ट्रंप उन पर कई बार राजनीतिक रूप से पक्षपाती होने का आरोप लगा चुके हैं.

सीबीएस की रिपोर्ट के मुताबिक मैकेब को पद छोड़ने के लिए मजबूर किया गया है. उन्हें मार्च में रिटायर होना था.

एक सप्ताह पहले ही एक मीडिया रिपोर्ट में कहा गया था कि ट्रंप उन्हें पद से हटाना चाहते हैं.

एक रिपोर्ट के मुताबिक राष्ट्रपति ने अपने ओवल ऑफ़िस में एक बैठक के दौरान मैकेब से पूछ लिया था कि उन्होंने किसे वोट दिया है.

वहीं व्हाइट हाउस की प्रवक्ता सारा हकाबी सांडर्स ने सोमवार को पत्रकारों से कहा कि मैकेब के पद से हटने का फ़ैसले के पीछे व्हाइट हाउस नहीं है.

सांडर्स ने कहा, "राष्ट्रपति इस फ़ैसले का हिस्सा नहीं है."

अपनी ही एफ़बीआई पर क्यों बिफ़रे डोनल्ड ट्रंप?

क्यों घबरा जाते हैं एफ़बीआई प्रमुख?

इमेज कॉपीरइट Getty Images

क्यों अहम है ये इस्तीफ़ा

राष्ट्रपति ट्रंप के पूर्व एफ़बीआई निदेशक जेम्स कोमी को पद से हटा देने के बाद मैकेब कुछ समय के लिए एफ़बीआई के कार्यकारी निदेशक रहे हैं.

कोमी 2016 राष्ट्रपति चुनावों में रूस के हस्तक्षेप की एफ़बीआई जांच का नेतृत्व कर रहे थे.

ट्रंप ने अंततः क्रिस्टोफ़र रे को एफ़बीआई का निदेशक नियुक्त किया था. सीनेट ने बीते साल अगस्त में इस नियुक्ति को मंज़ूरी दे दी थी.

वॉशिंगटन के मीडिया संस्थान एक्सियोस ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा था कि अमरीका के महाधिवक्ता जैफ़ सेसंस के मैककाबी को पद से हटाने का दबाव बनाने के बाद क्रिस्टोफ़र रे ने निदेशक पद छोड़ने की धमकी दे दी थी.

न्यू यॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने मैकेब को दूसरे पद पर स्थानांतरित करने में रुचि दिखाई थी जो कि उनकी पदावनति होती.

सीबीएस की रिपोर्ट के मुताबिक 49 वर्षीय मैकेब 2018 में पेंशन के लिए योग्य होने के बाद अपना पद छोड़ने के बारे में सोच रहे थे और इस समय वो छुट्टी पर चले गए हैं.

ट्रंप ने क्यों की मैके की आलोचना

इमेज कॉपीरइट Getty Images

राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने मैकेब की आलोचना की थी क्योंकि उनकी पत्नी जिल मैककाबे ने वर्जिनिया प्रांत से सीनेट पद के लिए नाकाम उम्मीदवारी की थी.

उनके चुनाव अभियान ने हिलेरी क्लिंटन से संबंधित एक फंडिंग समिति से पांच लाख डॉलर की मदद हासिल की थी. हिलेरी क्लिंटन ट्रंप के खिलाफ़ 2016 चुनावों में डेमोक्रेट उम्मीदवार थीं.

राष्ट्रपति ट्रंप ने ट्वीट करके मैकेब पर हिलेरी क्लिंटन से अपनी पत्नी के लिए चंदा लेने के आरोप लगाए थे.

द वॉशिंगटन पोस्ट ने बीते सप्ताह एक रिपोर्ट में कहा था कि मैकेब ओवल ऑफ़िस में राष्ट्रपति के साथ बैठक के दौरान पूछे गए एक सवाल को लेकर परेशान थे.

रिपोर्टों के मुताबिक ट्रंप ने मैकेब से पूछ लिया था कि चुनावों में उन्होंने किसके लिए मतदान किया है.

मैकेब ने राष्ट्रपति को बताया था कि उन्होंने मतदान ही नहीं किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे