क्यूबा के पूर्व राष्ट्रपति कास्त्रो के बड़े बेटे ने की आत्महत्या

  • 2 फरवरी 2018
क्यूबा, फ़िदेल कास्त्रो, कास्त्रो डियाज़-बालरॉर्ट इमेज कॉपीरइट AFP

क्यूबा के पूर्व राष्ट्रपति फ़िदेल कास्त्रो के बड़े बेटे फ़िदेल कास्त्रो डियाज़-बालार्ट ने हवाना में गुरुवार को आत्महत्या कर ली.

क्यूबा के सरकारी टेलीविजन और आधिकारिक साइट क्यूबाडिबेट ने इस ख़बर की पुष्टि की है.

ख़बरों के मुताबिक कास्त्रो डियाज़ लंबे समय से अवसाद (डिप्रेशन) में थे और उनका इलाज चल रहा था.

यह भी बताया जा रहा है​ कि 68 साल के डियाज़ इलाज के लिए शुरुआत में कुछ समय अस्पताल में भी भर्ती रहे थे और अस्पताल से लौटने के बाद भी उनका इलाज चल रहा था.

डियाज़-बालार्ट एक परमाणु वैज्ञानिक थे और उन्होंने कभी सरकार में कोई राजनीतिक पद नहीं लिया और अपनी मृत्यु के समय पर वह एकेडमी ऑफ़ साइंस ऑफ क्यूबा के उपाध्यक्ष के पद पर थे.

जब कास्त्रो ने इंदिरा को छाती से लगा लिया

नहीं होंगी फ़िदेल कास्त्रो के नाम की सड़कें, इमारतें

कौन थे डियाज़

इमेज कॉपीरइट AFP

डियाज़ ने पूर्व सोवियत संघ के सुपीरियर इंस्टीट्यूट ऑफ़ न्यूक्लियर साइंस एंड टेक्नोलॉजी से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की थी. वह 'फिदेलिटो' नाम से भी जाने जाते थे.

डियाज़ जुराग्वा न्यूक्लियर प्लांट के विकास के प्रभारी थे. क्यूबा तक परमाणु ऊर्जा लाने की उनके पिता की यह परियोजना सफल नहीं हो पाई.

वह फ़िदेल कास्त्रो और उनकी पहली पत्नी मिरता डियाज़ बालार्ट की एकमात्र संतान थे. डियाज़ की मां क्यूबा के एक प्रभावशाली परिवार से थी.

क्यूबा के मीडिया द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक परिवार के निर्णय के बाद अंतिम संस्कार किया जाएगा.

आधिकारिक मीडिया में उनकी मौत की खबरों के प्रकाशन ने लोगों को हैरान कर दिया क्योंकि यहां प्रेस आमतौर पर मौतों की वजह के बारे में ब्योरा नहीं देती है, खासतौर से आत्महत्या के मामलों में.

डियाज़-बालार्ट की शादी मारिया विक्टोरिया बारेरो के साथ हुई थी और उनके तीन बच्चे हैं.

'भारत से मोहब्बत करते थे फ़िदेल कास्त्रो'

क्या चे ग्वेरा से जलते थे फ़िदेल कास्त्रो?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे