इटली में चलती कार से 'विदेशियों' पर फायरिंग, छह घायल

  • 3 फरवरी 2018
इमेज कॉपीरइट Italy Police
Image caption हिरासत में लिया गया संदिग्ध हमलावर

इटली के माचेराता शहर में चलती गाड़ी से राहगीरों पर एक से ज़्यादा जगहों पर गोलीबारी की गई, जिसमें कम से कम छह लोग घायल हो गए हैं.

पुलिस के मुताबिक, मामले में एक व्यक्ति को गिरफ़्तार किया गया है. पुलिस ने यह भी बताया कि हमलों में घायल सभी लोग विदेशी हैं.

जब संदिग्ध हमलावर को हिरासत में लिया गया तो उसने अपने गले में इटली का झंडा लपेट रखा था.

संकेत मिल रहे हैं कि इन हमलों के पीछे नस्लीय नफ़रत हो सकती है.

अश्वेत अप्रवासी थे निशाने पर?

इमेज कॉपीरइट EPA

शहर के अलग-अलग हिस्सों में लोगों पर फ़ायरिंग की गई. राय स्टेट टीवी के मुताबिक, इसमें शहर के ट्रेन स्टेशन के पास का इलाक़ा भी शामिल है.

शहर की मेयर के दफ़्तर की ओर से लोगों को घर के भीतर रहने की चेतावनी जारी की गई.

घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है, जिनमें से एक की हालत गंभीर बताई जा रही है.

पुलिस का कहना है कि विदेशियों को निशाना बनाया गया, जबकि स्थानीय मीडिया के मुताबिक अश्वेत अप्रवासी निशाने पर थे.

18 लाख अप्रवासियों को नागरिकता देंगे ट्रंप?

अमरीका: हमले की साज़िश में तीन पर आरोप तय

संदिग्ध हमलावर काली अल्फ़ा रोमियो कार में सवार था. घटना के दो घंटे बाद उसे शहर के वॉर मेमोरियल के पास हिरासत में ले लिया गया. उस वक़्त वह हमले में इस्तेमाल की गई कार छोड़ चुका था.

एक स्थानीय वेबसाइट रेस्तो डेल कार्लिनो ने उसकी गिरफ़्तारी के बाद का एक वीडियो पोस्ट किया है, जिसमें एक गंजा श्वेत शख़्स कंधे पर इटली का झंडा लपेटे हुए नज़र आ रहा है.

इटली की पुलिस ने भी उसे हिरासत में लिए जाने के बाद एक तस्वीर ट्विटर पर पोस्ट की और बताया कि घायलों में से एक की सर्जरी की गई है.

एएनएसए समाचार एजेंसी के मुताबिक, 28 वर्षीय संदिग्ध ने हिरासत में लिए जाने के दौरान फासीवादी सलाम किया.

शहर के विया स्पालातो और विया दी वेलिनी इलाक़े में भी फ़ायरिंग की आवाज़ सुनी गई. ये दो इलाक़े एक 18 वर्षीय लड़की की हत्या के मामले में जांच की रडार पर हैं. लड़की की लाश बीते बुधवार को बरामद हुई थी. हत्या के मामले में एक नाइजीरियाई शख़्स को हिरासत में लिया गया था.

इसके बाद पीड़िता की मां के फेसबुक पेज पर कई नस्लीय टिप्पणियां की गई थीं और बदला लेने की बात कही गई थी.

स्थानीय रिपोर्टों में इन दोनों घटनाओं को जोड़कर पेश किया जा रहा है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption इतालवी प्रधानमंत्री पाओलो गेंतिलोनी

अगले महीने होने वाले आम चुनावों से पहले दक्षिणपंथी नेता इतालवी लड़की की हत्या को अपने अप्रवासी विरोधी संदेश को बढ़ावा देने के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं.

देश के प्रधानमंत्री पाओलो गेंतिलोनी ने अस्थायी तौर पर गोलीबारी की घटनाओं से जुड़े प्रचार पर पाबंदी लगा दी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे