उत्तर कोरिया से बातचीत एक 'बड़ी डील' हो सकती है: ट्रंप

  • 12 मार्च 2018
डोनल्ड ट्रंप इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption कांग्रेस के रिपब्लिकन उम्मीदावर के समर्थन में यह रैली हुई थी

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने कहा है कि उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के साथ उनकी प्रस्तावित बैठक या तो विफल हो सकती है या फिर यह "दुनिया के लिए सबसे बड़ा सौदा होगा."

पेंसिल्वेनिया में एक चुनावी रैली के दौरान ट्रंप ने समर्थकों से कहा कि उन्हें विश्वास है कि उत्तर कोरिया शांति स्थापित करना चाहता है.

हालांकि, उन्होंने ये भी कहा कि अगर उन्हें परमाणु परीक्षण को बंद करने को लेकर बातचीत में कोई प्रगति होती नहीं दिखी तो वह जल्दी ही बातचीत को छोड़ देंगे.

भाषण में अमरीकी नेता ने यूरोपीय कारों को लेकर चेतावनी दी और 2020 में होने वाले चुनाव को लेकर अपना नया नारा दिया.

किम और ट्रंप मिलेंगे तो इन चुनौतियों का क्या होगा?

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption बातचीत के लिए अभी कोई जगह तय नहीं है

ट्रंप ने उत्तर कोरिया पर क्या कहा?

शनिवार को कांग्रेस के लिए रिपब्लिकन उम्मीदवार की रैली में उन्होंने कहा, "कौन जानता हूं कि क्या होने जा रहा है?"

"मैं जल्दी ही बैठक छोड़ सकता हूं या हम बैठकर दुनिया के लिए सबसे बड़ा सौदा करेंगे."

लंबे-चौड़े भाषण के दौरान ट्रंप ने कहा कि उन्हें आशा है कि इस समझौते से परमाणु चिंताएं कम होंगी और उत्तर कोरिया जैसे देशों को मदद मिलेगी.

उन्होंने यह भी कहा कि उत्तर कोरिया ने मिसाइल परीक्षण को लेकर जो वादा किया है उसका वह सम्मान करेगा.

उन्होंने जनता से कहा, "मैं सोचता हूं कि वे शांति बनाना चाहते हैं, मुझे लगता है कि यही वो समय है."

ट्रंप और किम-जोंग उन मिलकर क्या बात करेंगे?

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption इस रैली को 2020 के चुनाव की शुरुआत भी कहा जा रहा है

कब हो सकती है बातचीत?

बातचीत के लिए अभी तक किसी समय या जगह के बारे में बताया नहीं गया है, लेकिन कुछ रिपोर्टों में कहा गया है कि मई के अंत में यह बैठक हो सकती है.

योनहप समाचार एजेंसी के अनुसार, दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति कार्यालय ने कहा है कि उत्तर कोरिया की सीमा पर संघर्ष विराम के तहत सैन्य मुक्त पममूंजम गांव एक 'गंभीर' विकल्प है.

स्वीडन, स्विट्ज़रलैंड और चीन में भी यह मुलाक़ात हो सकती है.

आज तक किसी भी अमरीकी राष्ट्रपति ने उत्तर कोरिया के नेता से मुलाक़ात नहीं की है और राष्ट्रपति ट्रंप के इस फ़ैसले ने कथित तौर पर उच्च अधिकारियों को चौंकाया है. गुरुवार को दक्षिण कोरियाई दूतों के द्वारा उत्तर कोरिया के साथ बातचीत का न्योता अमरीकी राष्ट्रपति को भिजवाया गया था.

इनके लिए किम-ट्रंप से ज़्यादा अहम होगी ये मीटिंग

एक-दूसरे का अपमान करने में आगे रहे हैं ट्रंप और किम जोंग-उन

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption 2020 में होने वाले चुनाव का नारा, "अमरीका को महान बनाए रखें" होगा

ट्रंप ने बताया 2020 का नारा

वॉशिंगटन में बीबीसी संवाददाता क्रिस बकलर ने बताया कि ट्रंप का भाषण के मुख्य समर्थकों के लिए था.

उन्होंने कहा कि 'कांग्रेस के लिए रिपब्लिकन उम्मीदवार के समर्थन में यह रैली थी और ऐसा लग रहा था कि यह राष्ट्रपति अभियान की शुरुआत है.'

उन्होंने घोषणा की कि 2020 में होने वाले चुनाव का नारा, "अमरीका को महान बनाए रखें" होगा.

उन्होंने ड्रग डीलरों के लिए मौत की सज़ा दिए जाने की संभावना को फिर से ज़ाहिर किया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption टैरिफ़ को लेकर ईयू को एक बार फिर ट्रंप ने चेतावनी दी है

टैरिफ़ पर भी बोले ट्रंप

व्यापार पर सख़्त कदम उठाने पर भी ट्रंप बोले. उन्होंने टैरिफ़ को अपने बच्चे की तरह बताया.

यूरोपियन यूनियन (ईयू) से आयात होने वाली कारों पर टैक्स का डर भी उन्होंने दोबारा ज़ाहिर करते हुए कहा कि ईयू मुश्किलें बढ़ाता है और अपने टैरिफ़ से मुक्त हो जाता है.

उन्होंने कहा, "अगर आप यह नहीं करने जा रहे हैं तो हम मर्सिडीज़ बेंज़ पर टैक्स लगाएंगे, हम बीएमडब्ल्यू पर टैक्स लगाएंगे."

राष्ट्रपति ट्रंप और पोर्न स्टार की पूरी कहानी

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए