क्या पेरिस में चलेगा सेक्स डॉल 'वेश्यालय'?

  • 23 मार्च 2018
इमेज कॉपीरइट Getty Images

काउंसिल ऑफ़ पेरिस ने सेक्स डॉल से जुड़े एक कारोबार के ख़िलाफ आए एक प्रस्ताव को ख़ारिज कर दिया है. इस कारोबार को महिलाओं के लिए अपमानजक बताया गया था.

दरअसल, पेरिस में एक ऐसा कारोबार विवादों में है जिसमें लोगों को एक सिलिकॉन सेक्स डॉल के साथ एक घंटा बिताने के लिए 89 यूरो (7156 रूपये) देने होते हैं.

कम्यूनिस्ट पार्षदों और महिला समूहों ने इस पर आपत्ति जताई थी. उन्होंने पेरिस में प्रशासन के लिए जिम्मेदार काउंसिल ऑफ पेरिस से एक्सडॉल्स को बंद करने की संभावना को लेकर अध्ययन करने के लिए कहा था.

उनका कहना था कि ये महिलाओं को अपमानित करना वाला है और एक वेश्यालय जैसा है. फ्रांस में वैश्यालय चलाना ग़ैर-कानूनी है.

ऑस्ट्रिया में सेक्स डॉल पर टूट पड़े लोग

लेकिन, पुलिस ने काउंसिल की बैठक से पहले उस जगह का दौर किया था और उनका कहना था कि वहां कोई कानून नहीं तोड़ा जा रहा है.

एक्सडॉल्स पर आए इस फ़ैसले के बाद कम्यूनिस्ट पार्षद निकोलस बॉनेट और हार्वी बेग्यू ने कहा कि उन्हें काउंसिल के फ़ैसले पर बेहद अफ़सोस है.

उन्होंने कहा, ''इंसानों से काफ़ी हद तक मिलती-जुलती ये डॉल फ्रांस में वेश्यालय वापस लाने के लिए की गई नई खोज है.''

उन्होंने एक्सडॉल्स को ''महिला और पुरुष के बीच संबंधों के अमानवीयकरण की चरम सीमा'' बताया और वेश्यावृति नेटवर्क द्वारा महिलाओं के शोषण और मानव तस्करी से जुड़े अपराधों को महत्वहीन बनाने का आरोप भी लगाया.

क्या आप किसी रोबोट के साथ सेक्स करेंगे?

एक्सडॉल्स का गुप्त पता

जिस जगह पर एक्सडॉल्स का कारोबार चलाया जाता है उसे गुप्त रखने की पूरी कोशिश की जाती है.

एक्सडॉल्स को पेरिस में एक गुमनाम जगह पर रखा गया है और इस जगह को इसी साल खोला गया है. लेकिन, असल पहचान छुपाते हुए इस जगह का नाम 'गेम्स सेंटर' रखा गया है.

इस जगह के मालिक जोशाम लॉस्क्वी ने ले परसियन अखबार को बताया कि यहां आने वाले ज्यादातर लोगों में पुरुष होते हैं लेकिन कुछ प्रेमी जोड़े भी यहां आते हैं. जोशाम पहले ई-सिगरेट शॉप चलाते थे.

यहां तीन कमरे हैं और हर एक कमरे में 1 मी. 45 सेमी. और हजारों यूरो कीमत की सिलिकॉन सेक्स डॉल रखी हैं.

ग्राहक इसके लिए ऑनलाइन बुकिंग और भुगतान करते हैं लेकिन उनसे भी इस सेंटर का पता गुप्त रखा जाता है. जोशाम कहते हैं कि यहां के पड़ोसियों तक को नहीं पता है कि यह किस तरह का कारोबार है.

वह कहते हैं कि ये गुड़ियाएं सेक्स टॉय हैं और वह इसे महिलाओं को अपमानित करने वाला नहीं मानते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे