डॉक्टर ने खुद के स्पर्म से किया महिलाओं को गर्भवती

  • 9 अप्रैल 2018
कनाडा इमेज कॉपीरइट COURTESY OF REBECCA DIXON

कनाडा के एक फर्टिलिटी (प्रजनन) डॉक्टर पर गर्भाधान के लिए अपने ही या अनजाने स्पर्म के इस्तेमाल के मामले में दर्जनों लोगों ने मुक़दमा दर्ज कराया है.

डॉक्टर नोरमान ब्रॉविन पर पिछले साल नवंबर में मुक़दमा दर्ज कराया गया था. एक डीएनए टेस्ट में पता चला था कि नोरमान अपनी ही मरीज़ की बेटी के पिता हैं.

इसके अलावा 11 अन्य लोगों ने दावा किया है कि नोरमान ही उनकी संतान के जैविक पिता हैं. नोरमान के ख़िलाफ़ 50 लोगों के एक समूह ने शिकायत की है कि उनकी संतान का डीएनए उस स्पर्म के डीएनए से अलग है जिसका उन्होंने चुनाव किया था. डॉक्टर के ख़िलाफ़ ऐसी शिकायतें 1970 के दशक तक जा रही हैं.

ये मामले दो फर्टिनिटी क्लिनिक के हैं- ओटावा और ओंटारियो. डॉ ब्रॉविन के वकील केरॉन हैमवे ने नए आरोपों पर टिप्पणी से इनकार कर दिया है.

इमेज कॉपीरइट CBC

डीएनए टेस्ट में पता चला है जो कि 11 लोग फर्टिलिटी क्लिनिक गए थे उन्होंने अपनी संतान का डीएनए टेस्ट कराया तो पता चला कि गर्भाधान में डॉक्टर ने अपने ही या किसी और के स्पर्म का इस्तेमाल किया था

एक और मामले में पता चला है कि 16 अन्य लोगों ने शिकायत की है कि उन्होंने डीएनए टेस्ट कराया तो पता चला कि उनकी संतान का जैविक पिता कोई और है. हालांकि वकीलों का कहना है कि इनके जैविक पिता का पता नहीं है.

इसके अलावा 35 और लोगों ने शिकायत की है कि उन्होंने जिस स्पर्म का चुनाव किया था उससे उनकी संतान का डीएनएए मैच नहीं कर रहा है.

नवंबर में यह मामला तब सामने आया था जब डेनियल और डेविना डिक्सन के साथ उनकी बेटी रिबेका ने डॉक्टर के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज कराई थी. इस परिवार ने अपनी बेटी रिबेका का डीएनए टेस्ट कराया तो पता चला कि उनकी बेटी का जैविक पिता ख़ुद डॉक्टर नोरमान हैं.

इस परिवार ने 1989 में डॉ नोरमान से गर्भाधान को लेकर संपर्क किया था और ठीक एक साल बाद रिबेका का जन्म हुआ था. डेविना को शक रिबेका की भूरी आंखों से हुआ क्योंकि डिक्सन की आंखें नीली हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे