दक्षिण कोरिया ने उतारे किम जोंग-उन के ख़िलाफ़ प्रचार करनवाले स्पीकर

  • 1 मई 2018
सीमा पर लगे स्पीकर इमेज कॉपीरइट Getty Images

उत्तर और दक्षिण कोरिया की सीमा पर लगे लाउडस्पीकर दक्षिण कोरिया ने हटाना शुरू कर दिया है और कहा है कि उत्तर कोरिया भी शायद ऐसा ही कर रहा है.

दोनों देश सीमा पर लगे इन लाउडस्पीकर्स के ज़रिए वर्षों से एक-दूसरे के ख़िलाफ़ प्रचार करते रहे हैं.

पिछले हफ़्ते दोनों देशों के नेताओं की ऐतिहासिक मुलाकात और शांति स्थापना की कोशिशों के बीच इसे सांकेतिक कदम के रूप में देखा जा रहा है.

बीते शुक्रवार को उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन और दक्षिण कोरियाई नेता मून जे इन दोनों देशों के बीच तनाव घटाने और प्रायद्वीप को परमाणु हथियार से मुक्त करने पर सहमत हुए थे.

परमाणु मुद्दे पर बात करने के लिए किम जोंग-उन के कुछ हफ़्तों के भीतर ही अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प से मिलने की संभावना है.

दक्षिण कोरिया के लाउडस्पीकर 1960 के दशक में लगाए गए थे और तभी से सीमा पर पॉप म्युज़िक से लेकर ख़बरों का प्रसारण किया जाता रहा है.

वे ख़ासकर उत्तर कोरियाई सैनिकों को ध्यान में रखकर प्रसारित किए जाते थे ताकि उनके भीतर अपने नेता किम जोंग-उन के प्रति संदेह पैदा किया जा सके.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

दक्षिण कोरिया ने कभी इस बात की पुष्टि नहीं की कि कहां और कितने स्पीकर लगाए गए थे, हालांकि शुक्रवार की वार्ता से पहले दोनों देशों ने इन लाउडस्पीकर्स पर प्रसारण बंद कर दिया था.

मंगलवार को दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्रालय ने बताया कि उनकी तरफ़ के स्पीकर्स को उतारने का काम शुरू कर दिया गया है.

दक्षिण कोरिया का कहना है कि उत्तर कोरिया की तरफ़ से भी ऐसा ही कदम उठाए जाने के संकेत मिले हैं.

दक्षिण कोरिया ने पहले कहा था कि ऐसा करने का फ़ैसला दोनों देशों के बीच विश्वास बढ़ाने के लिए किया गया है.

इंटर-कोरियन समिट एक दशक से भी अधिक समय के बाद दोनों कोरियाई नेताओं के बीच मुलाक़ात थी जिसके आखिर में एक संयुक्त घोषणापत्र पर हस्ताक्षर किया गया.

किम उन जोंग की ट्रंप से मुलाकात

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption उत्तर और दक्षिण कोरियाई सीमा पर स्थित पनमुनजोम गांव जहां ट्रंप ने किम जोंग-उन के साथ बैठक का सुझाव दिया है

किम जोंग-उन और अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप की मुलाक़ात जून में होने की उम्मीद जताई जा रही है. ये पहली बार होगा कि उत्तर कोरिया के शीर्ष नेता और अमरीकी राष्ट्रपति एक साथ बैठक करेंगे.

अभी तक कोई तारीख़, एजेंडा या स्थान तय नहीं हुआ है, हालांकि दोनों नेताओं की बैठक के लिए मंगोलिया और सिंगापुर का नाम आगे चल रहा है.

सोमवार को ट्रंप ने अपने ट्वीट में बैठक के लिए उत्तर और दक्षिण कोरिया की सीमा पर किसी स्थल का सुझाव दिया था.

उन्होंने कहा, शांति सभा वहां होगी जो 'प्रतिनिधि, मुख्य और स्थायी' जगह होगी.

'उ. कोरिया मई में परमाणु परीक्षण स्थल बंद करेगा'

उत्तर-दक्षिण कोरिया मुलाक़ात: 'परमाणु हथियार मुक्त होगा कोरिया'

आखिर क्यों एक नहीं हो सकते हैं उत्तर- दक्षिण कोरिया?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए