इंडोनेशिया: एक परिवार के सदस्यों ने किया तीन चर्चों पर हमला

सुराबाया के चर्च पर आत्मघाती हमला इमेज कॉपीरइट Special
Image caption सुराबाया के चर्च पर हुए आत्मघाती हमले में कई माटरसाइकिल जल गई हैं.

इंडोनेशिया के दूसरे सबसे बड़े शहर सुराबाया के तीन चर्चों पर हुए आत्मघाती हमले में 11 लोगों की मौत हो गई है.

पुलिस का कहना है कि हमले में कई लोग घायल भी हुए हैं. ये धमाके स्थानीय समयानुसार सुबह के साढ़े सात बजे कुछ ही मिनटों के दरमियान हुए.

कथित चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट ने इन हमलों की जिम्मेदारी ली है. साल 2005 के बाद इंडोनेशिया में हुआ अब तक का सबसे बड़ा हमला है.

पुलिस प्रमुख टीटो कार्नावियन ने बताया है कि इन आत्मघाती बम हमले के पीछे एक ही परिवार के सदस्यों का हाथ है. उन्होंने बताया, "एक चर्च में मां ने अपने दो बच्चों के साथ खुद को धमाके से उड़ा लिया जबकि पिता और अन्य तीन बच्चों ने दूसरी जगहों पर हमला किया."

इमेज कॉपीरइट EPA

टेलीविज़न पर आ रही तस्वीरों में एक चर्च के प्रवेश द्वार पर फैला मलबा देखा जा सकता है.

हाल के दिनों में इंडोनेशिया में इस्लामी चरमपंथ फिर से उभरता हुआ दिख रहा है.

इससे पहले इंडोनेशिया की खुफिया एजेंसी का कहना है कि चरमपंथी गुट 'जेमाह अंशारुत दौलाह' ने इन हमलों को अंजाम दिया होगा.

खुद को इस्लामिक स्टेट कहने वाले चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट से ये गुट प्रेरित बताया जाता है.

कुछ ही दिनों पहले इंडोनेशिया में जेल में बंद इस्लामी चरमपंथियों के साथ सुरक्षा बलों की मुठभेड़ में पांच सैनिकों की मौत हो गई थी.

देश के राष्ट्रपति जोको विडीडो ने घटनास्थल का दौरा किया जिसके बाद उन्होंने हमले को "निर्मम" बताया. उन्होंने पुलिस को "मामले की जांच करने और हमलावरों के नेटवर्क को पूरी तरह तोड़ने" का आदेश दिया है.

इमेज कॉपीरइट ANTARA FOTO/ HANDOUT SURABAYA GOVERNMENT/ REUTERS

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार