वो 'स्पाइडरमैन' जिस पर फिदा हुआ फ्रांस

  • 28 मई 2018
फ्रांस के राष्ट्रपति इमेनुएल मेक्रों के साथ गास्सामा इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption फ्रांस के राष्ट्रपति इमेनुएल मेक्रों के साथ गास्सामा

पेरिस में एक प्रवासी के रूप में रहने वाले पश्चिमी अफ़्रीकी देश माली के नागरिक ममोउदोउ गास्सामा को एक बच्चे की जान बचाने की पूरे फ्रांस में तारीफ़ हो रही है और राष्ट्रपति इमेनुएल मेक्रों ने कहा है कि उन्हें फ्रांस की नागरिकता दी जाएगी.

दरअसल, गास्सामा ने पेरिस में एक बच्चे की जान बचाने के लिए अपनी जान की परवाह नहीं की. और वह एक मिनट से भी कम समय में चार मंजिला इमारत पर बिना किसी सुरक्षा इंतज़ाम के चढ़ते चले गए और बच्चे की जान बचा ली.

इसके बाद से सोशल मीडिया पर गास्सामा का वीडियो वायरल हो गया है और पेरिस में उन्हें एक हीरो की तरह देखा जा रहा है.

इमेज कॉपीरइट Facebook

राष्ट्रपति मेक्रों ने की तारीफ़

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने रविवार को 22 साल के गास्सामा को उनके इस शानदार काम के लिए व्यक्तिगत स्तर पर धन्यवाद देने के लिए इलेसी पैलेस में बुलाया है.

वहीं, पेरिस शहर की मेयर एन हिडाल्गो ने भी गास्सामा को फ़ोन करके उनकी तारीफ़ की है.

यही नहीं, एन हिडाल्गो ने गास्सामा को 'स्पाइडर मैन' की उपाधि भी दी है.

हिडाल्गो ने ट्वीट किया, "गास्सामा ने मुझे बताया है कि कुछ महीने पहले ही अपनी ज़िंदगी के सपनों को पूरा करने के लिए माली से पेरिस आए हैं. और मैंने उनसे कहा है कि उन्होंने जो काम करके दिखाया है वो सभी नागरिकों के लिए एक मिसाल है और पेरिस शहर उन्हें उनके सपनों को पूरा करने में हर तरह से सहयोग देगा."

'मैं चढ़ता चला गया क्योंकि...'

पेरिस में शनिवार शाम गास्सामा एक सड़क से होकर गुज़र रहे थे कि तभी उन्होंने एक इमारत के सामने लोगों की भीड़ को देखा.

ले पारिसियन अख़बार ने उनके हवाले से लिखा है, "मैंने ये इसलिए किया क्योंकि एक बच्चे की जान ख़तरे में थी. मैं चढ़ा और भगवान का शुक्र है कि मैंने उसे बचा लिया."

पेरिस के दमकलकर्मियों ने कहा है कि जब उनकी टीम घटनास्थल पर पहुंची तब तक बच्चे को बचाया जा चुका था.

पेरिस के अख़बारों ने स्थानीय अधिकारियों के हवाले से लिखा है कि घटना के दौरान बच्चे के माता-पिता घर पर मौजूद नहीं थे. और पुलिस ने बच्चे के पिता से पूछताछ की है.

अरबों की पेंटिंग उड़ाने वाला यह 'स्पाइडरमैन'

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे