ग्वाटेमाला ज्वालामुखी.. लावा, राख और तबाही

  • 5 जून 2018
ग्वाटेमाला ज्वालामुखी

ग्वाटेमाला की राजधानी से करीब 40 किलोमीटर दूर फ्यूएगो ज्वालामुखी में 3 जून को विस्फोट हुआ था. जिसकी चपेट में आकर 62 लोगों की मौत हुई है.

ग्वाटेमाला इमेज कॉपीरइट Reuters

ज्वालामुखी से निकला लावा बहकर पास के गांवों में पहुंच गया. वहां रह रहे लोगों को बचाने के लिए रात भर बचाव अभियान जारी रहा.

ग्वाटेमाला इमेज कॉपीरइट Reuters

100 साल से भी ज़्यादा वक्त बाद ग्वाटेमाला में ऐसा भयानकर ज्वालामुखी विस्फोट हुआ है. ग्वाटेमाला के राष्ट्रपति ने तीन दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित किया है.

ज्वालामुखी इमेज कॉपीरइट Reuters

ज्वालामुखी के फटने पर लाल-गर्म चट्टानों और गैस का मिश्रण, जिसे पायरोक्लास्टिक फ्लो भी कहा जाता है, पहाड़ से निकलकर बहता हुआ आस-पास के इलाकों में फैल गया.

ज्वालामुखी इमेज कॉपीरइट Reuters

पायरोक्लास्टिक फ्लो में लावा तेज़ी से आगे बढ़ता है, जिसकी वजह से लोगों को बचने का मौका नहीं मिल पाता.

ज्वालामुखी इमेज कॉपीरइट Reuters

फ्यूएगो ज्वालामुखी से लावा तेज़ी से बहकर गांवों में पहुंच गया और घरों में बैठे कई लोग इसमें जलकर मारे गए. सैंकड़ों लोग घायल भी हुए हैं और कई अब भी लापता हैं.

ज्वालामुखी इमेज कॉपीरइट AFP

ज्वालामुखी से निकली राख आसमान में कई किलोमीटर ऊपर तक उछली और राजधानी ग्वाटेमाला सिटी में लोगों और चीज़ों पर गिरी.

ग्वाटेमाला ज्वालामुखी इमेज कॉपीरइट Reuters

चार इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षा के लिहाज़ से मास्क पहनने की हिदायत दी गई है. विस्फोट से कूल 1.7 मीलियन लोगों पर असर पड़ा है.

ग्वाटेमाला ज्वालामुखी इमेज कॉपीरइट Reuters

प्रभावित इलाकों के लोग अपने-अपने घरों को छोड़कर अस्थाई राहत शिविरों में शरण ले रहे हैं.

ग्वाटेमाला इमेज कॉपीरइट AFP

ग्वाटेमाला के हवाई अड्डे का रनवे ज्वालामुखी से निकली राख से भर गया है. इसे हटाने के लिए सेना को लगाया गया है.

ग्वाटेमाला इमेज कॉपीरइट Reuters

इससे पहले फरवरी में भी एक विस्फोट हुआ था, जिसमें निकली राख आसमान में 1.7 किलोमीटर ऊपर तक गई थी. लेकिन इस बार हुए ज्वालामुखी विस्फोट में राख बहुत ज़्यादा निकली.

ग्वाटेमाला इमेज कॉपीरइट AFP

फ्यूएगो ज्वालामुखी में और विस्फोट होने का खतरा है.

ग्वाटेमाला इमेज कॉपीरइट Reuters

ये भी पढ़े...

ग्वाटेमाला: ज्वालामुखी फटने से 62 मौतें, बचाव अभियान जारी

किम जोंग उन का इस ज्वालामुखी से क्या नाता है?

ज्वालामुखी की ताकत के सामने बेबस इंसान

यह है दुनिया का सबसे हिंसक शहर

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए