उत्तर कोरिया के लोगों ने नहीं देखी ट्रंप-किम की मुलाक़ात, मगर क्यों?

  • 12 जून 2018
उत्तर कोरिया के टीवी पर मुलाक़ात का प्रसारण नहीं किया गया
Image caption उत्तर कोरिया के टीवी पर मुलाक़ात का प्रसारण नहीं किया गया

पूरी दुनिया के समाचार चैनल और मीडिया हाउस इस वक्त अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन की ऐतिहासिक मुलाक़ात की चर्चा कर रहे हैं. तमाम जगहों पर इस मुलाक़ात की लाइव कवरेज़ दिखाई गई.

किम जोंग उंग और डोनल्ड ट्रंप की हाथ मिलाते, साथ हंसते और सिंगापुर के होटल के गार्डन में साथ-साथ टहलने के वीडियो और तस्वीरें सभी जगह छाई हुई हैं.

जिस वक्त दुनिया भर के समाचार जगत में उत्तर कोरिया की चर्चा हो रही है, ठीक उसी समय उत्तर कोरिया के समाचार चैनलों पर क्या दिखाया जा रहा है, इसको लेकर भी आपकी दिलचस्पी हो सकती है.

ऐेसे में आपको ये जानकर अचरज हो सकता है कि उत्तर कोरिया में ट्रंप और किम की मंगलवार को हुई ऐतिहासिक मुलाक़ात को दिखाया ही नहीं गया है.

उत्तर कोरिया के सरकारी टीवी चैनल कोरियन सेंट्रल टेलीवीजन (केसीटीवी) में किम और ट्रंप की मुलाक़ात के बारे में कुछ नहीं बताया गया.

उत्तर कोरिया के सरकारी चैनल का प्रसारण भारतीय समयानुसार सुबह 11.30 बजे शुरू होता है. इस समय जो समाचार बुलेटिन प्रसारित किया गया उसमें सिर्फ़ इतना बताया गया कि किम जोंग उन सिंगापुर के दौरे पर हैं.

इमेज कॉपीरइट kctv

प्रसारण की शुरुआत देशभक्ति के एक गाने से हुई, उसके 10 मिनट बाद एक महिला समाचार वाचक ने किम के सिंगापुर दौरे की ख़बर सुनाई लेकिन इसमें कोई वीडियो या तस्वीरें नहीं दिखाई गईं.

वहीं अगर उत्तर कोरिया की सत्ताधारी दल के समाचार पत्र रोडोंग सिनमुन की बात करें तो उसमें किम जोंग उन के सिंगापुर दौरे से जुड़ी 14 तस्वीरें प्रकाशित की गई हैं.

इनमें किम के सिंगापुर के अधिकारियों से मिलने की तस्वीरें ही हैं.

सरकारी रेडियो में भी सिर्फ किम जोंग उन के सिंगापुर पहुंचने और वहां अलग-अलग अधिकारियों से मिलने की ख़बरें ही प्रसारित की गई हैं.

इमेज कॉपीरइट RODONG SINMUN

चीन में कैसे हुआ प्रसारण

किम जोंग उन और डोनल्ड ट्रंप की इस मुलाक़ात पर चीन भी नज़रें गड़ाए हुए था. चीन के सरकारी चैनल सीजीटीएन ने इस मुलाक़ात का सीधा प्रसारण किया.

चीन की सरकारी चैनल के एक संवाददाता सिंगापुर में मौजूद थे तो दूसरे स्टूडियो में थे. आपस में इस मुलाक़ात की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि यह बहुत ही हैरानी भरा होगा अगर उत्तर कोरिया अमरीका से सुरक्षा की गारंटी लिए बिना अपने परमाणु हथियारों को नष्ट करने के लिए मान जाए.

चीन की एक अन्य वेबसाइट गुआन्चा डॉट सीएन पर किम और ट्रंप की मुलाक़ात टॉप न्यूज़ बनी रही. वहीं सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने इस मुलाकात से पहले एक ऑनलाइन लेख पोस्ट किया.

(बीबीसी मॉनिटरिंग दुनिया भर के टीवी, रेडियो, वेब और प्रिंट माध्यमों में प्रकाशित होने वाली ख़बरों पर रिपोर्टिंग और विश्लेषण करता है. आप बीबीसी मॉनिटरिंग की ख़बरें ट्विटर और फ़ेसबुक पर भी पढ़ सकते हैं.)

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए