फूल खिले हैं गुलशन गुलशन

  • 22 जून 2018
फूल इमेज कॉपीरइट TESSA BUNNEY

गुलदस्तों में सजे फूल हम सबका मन मोहते हैं. रंग-बिरंगे और अलग-अलग आकार प्रकार के ये फूल हमारी ज़िंदगी को भी रंगों और ताज़गी से भर देते हैं.

इन खूबसूरत फूलों के साथ बात उन लोगों की भी जो इन्हें उगाते हैं और हम तक पहुंचाते हैं.

ब्रिटेन किसानों, बागवानों और फूल प्रेमियों का देश है. यहां का फूल उद्योग सालाना दो अरब पाउंड से ज़्यादा का है.

फोटोग्राफर टिसा बनी ने फूल की खेती करने वाले कुछ लोगों की तस्वीरों को अपने कैमरे में कैद किया.

इमेज कॉपीरइट TESSA BUNNEY
Image caption ट्यूलिप की खेती

एक वक्त ब्रिटेन के ग्रामीण इलाकों में फूलों की खूब खेती होती थी. बागवान सब्ज़ियों के साथ फूल लगाया करते थे.

1800 में यातायात के बेहतर साधनों से ब्रिटेन में फूलों की खेती में उछाल आया. खेतों से फूल रोज़ाना ट्रेनों के ज़रिए दूर-दराज के इलाकों और शहरों में पहुंचाए जाने लगे.

खेतों से निकलने वाले फूलों में डोलिश से वायलेट्स, लिंकनशायर से स्नोड्रॉप और कॉर्नवाल से नारसीसी शामिल हुआ करते थे.

इमेज कॉपीरइट TESSA BUNNEY
Image caption नारसीसी को चुनती महिला

परिवहन व्यवस्था जितनी अच्छी होगा, फूलों का उत्पादन भी उतना ही अच्छा होता है. हवाई जहाज़ से फूलों को एक जगह से दूसरी जगह तक कम समय में पहुंचाना और आसान हो गया. अब हमें साल में किसी भी वक्त और किसी भी तरह का फूल मिल सकते है.

इमेज कॉपीरइट TESSA BUNNEY
Image caption फूलों का गुच्छा बनाती महिला

मौसमी फूलों की पैदावार की वजह से ब्रिटेन के फूल उद्योग में तेज़ी देखी गई है.

इमेज कॉपीरइट TESSA BUNNEY
Image caption उत्तर यॉर्कशायर में फॉरवर्डिंग
इमेज कॉपीरइट TESSA BUNNEY
इमेज कॉपीरइट TESSA BUNNEY
इमेज कॉपीरइट TESSA BUNNEY
इमेज कॉपीरइट TESSA BUNNEY

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे