इस दुर्गम, भयावह गुफा से बच्चे बाहर निकलें कैसे?

  • 5 जुलाई 2018
गुफा में बच्चा इमेज कॉपीरइट AFP

घुप्प अंधेरा, पानी से भरी गुफा, तंग संकरा रास्ता और भूस्खलन की आशंका.

थाईलैंड की जिस गुफा में 12 बच्चे अपने कोच के साथ फँसे हैं उसका नज़ारा ऐसा ही है. इस गुफा में ये बच्चे 23 जून से फँसे हैं और सोमवार को इनके सुरक्षित होने की ख़बर आई. साथ ही गुफा के अंदरूनी कई दृश्य सामने आए हैं.

नीचे दिए ग्राफ से आप समझ सकते हैं कि बच्चों को गुफा से निकालना कितना मुश्किल भरा काम है. इस छोटी जगह में 13 लोग फँसे हैं.

यह गुफा प्रवेश द्वार से दो किलोमीटर लंबी और 800 मीटर से एक किलोमीटर तक गहरी है. समस्या यह है कि गुफा कई इलाकों से पूरी तरह से कटी हुई है.

यहाँ कुछ दिनों से मूसलाधार बारिश हो रही है इसलिए राहत दल को इन बच्चों को खोजने में नौ दिन लग गए. लेकिन बच्चों को बाहर निकालने में कई हफ़्तों से लेकर महीनों लग सकते हैं.

बचाव दलों का ध्यान इस बात पर है कि गुफा में और पानी ना भरने दिया जाए. सोमवार को थाई नेवी ने घोषणा की है कि वो गुफा तक खाना पहुंचाने की तैयारी कर रही है ताकि वो चार महीनों तक खाना खा सकें.

गुफा के कुछ हिस्से इतने संकरे हैं कि राहत दल को इन बच्चों को बाहर निकालने के लिए तगड़ी ट्रेनिंग देनी होगी.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
थाईलैंड गुफा: अब तक क्या-क्या हुआ?

बड़ी दिक़्क़त ये है कि जो बच्चे वहां फँसे हुए हैं वो ट्रेंड तैराक नहीं हैं.

इंटरनेशनल अंडरवाटर केव रेस्क्यू ऑर्गेनाइजेशन ने बीबीसी से कहा कि वहां कोई कुछ देख नहीं सकता है. अंधेरे का भयावह साम्राज्य होता है. वहां के जो हालात होते हैं उसमें रहना बेहद मुश्किल भरा होता है. फँसे हुए लोगों का डरना और घबराना बिल्कुल स्वाभाविक है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इस राहत बचाव कार्य में कई देशों के लोग शामिल हैं. एक हज़ार लोगों का एक बचाव दल बना है जिसमें सेना, स्थानीय वर्कर और प्रशिक्षत लोग हैं.

बचाव दल एक और विकल्प पर विचार कर रहा है जिसमें गुफा के ऊपर से ड्रिल करने की बात हो रही है. हालांकि इसके लिए कई तरह की मुकम्मल तैयारियों की ज़रूरत होगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे