ईरान में महिलाएं किसके विरोध में कर रही हैं डांस

  • 9 जुलाई 2018
मोजाब्री इमेज कॉपीरइट Instagram/maedeh_hozhabri

ईरान में कई महिलाएं सोशल मीडिया पर डांस करते हुए अपने वीडियो जारी कर रही हैं.

ये महिलाएं अपने डांस वीडियोज़ के ज़रिए एक टीनएज़र की गिरफ़्तारी का विरोध करना चाह रही हैं.

मीदा होजाब्री नाम की इस टीनएज़र ने अपने ईरानी और पश्चिमी संगीत पर डांस करते हुए तमाम वीडियोज़ जारी किए हैं और हज़ारों लोग इसे फॉलो भी कर रहे हैं.

शुक्रवार को सरकारी टीवी चैनल ने होजाब्री का कुबूलनामा प्रसारित किया है.

इस महिला की गिरफ़्तारी के बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने युवा डांसर का समर्थन करना शुरू कर दिया है.

होजाब्री के समर्थन में लोग 'डासिंग अपराध नहीं है' जैसे हैशटैग्स का इस्तेमाल कर रहे हैं.

ईरान में महिलाओं के कपड़े और पुरुषों के साथ डांस करने को लेकर कड़े नियम हैं. हालांकि, पारिवारिक सदस्यों को लेकर इन नियमों में छूट दी गई है.

होजाब्री के डांस वीडियोज़ में वह हिजाब और सर पर पहने जाने वाले स्कार्फ के बिना नज़र आ रही हैं.

होजाब्री जैसे तमाम दूसरे डांस कलाकारों को भी हाल ही में गिरफ़्तार किया गया है.

ब्लॉगर हुसैन रोनाघी ने इस मामले में टिप्पणी की है, "अगर आप दुनिया में कहीं भी ये बताओगे कि 17-18 साल की लड़कियां अपने डांस, खुशी, और खूबसूरती के लिए अभद्रता फैलाने के आरोप पर गिरफ़्तार की जा रही हैं, वहीं बच्चों के बलात्कारी और दूसरे आरोपी खुले घूम रहे हैं. ये विश्वास करने लायक नहीं है!"

एक ट्विटर यूज़र इस मुद्दे पर लिखते हैं, "मैं डांस कर रही हैं ताकि अधिकारी देख सकें कि वह होजाब्री जैसी युवा महिलाओं को गिरफ़्तार करके हमारी खुशी और उम्मीद नहीं छीन सकते."

ईरान में डांस करने वालों को गिरफ़्तार किए जाने का ये पहला मामला नहीं हैं.

इससे पहले मशाद में एक मॉल में महिलाओं और पुरुषों के साथ डांस करने का वीडियो सामने आने के बाद एक अधिकारी को गिरफ़्तार किया गया था.

साल 2014 में छह ईरानी नागरिकों ने अंग्रेजी गानों पर डांस का वीडियो शेयर किया था तो इस मामले में उन्हें एक साल की कैद और 91 कोड़ों की सज़ा सुनाई गई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे