जॉन मैक्केन को आख़िरी विदाई देने क्यों नहीं आए ट्रंप

  • 2 सितंबर 2018
जॉन मैक्केन इमेज कॉपीरइट Getty Images

वियतनाम युद्ध के हीरो और अमरीकी सीनेटर जॉन मैक्केन को आख़िरी श्रद्धांजलि देने पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा और जॉर्ज डब्ल्यू बुश दोनों पहुंचे.

मैक्केन के राष्ट्रपति उम्मीदवार होने के कारण एक वक़्त में बुश और ओबामा दोनों उनके प्रतिद्वंद्वी रहे थे.

बुश और ओबामा दोनों ने जॉन मैक्केन की जमकर तारीफ़ की. वॉशिंगटन नेशनल कैथेड्रल में जॉन मैक्केन की आख़िरी विदाई में उनकी बेटी मेगेन मैक्केन भी थीं.

मैक्केन को आख़िरी श्रद्धांजलि देने राष्ट्रपति ट्रंप नहीं पहुंचे थे. ट्रंप के नहीं आने पर मेगेन मैक्केन ने बिना नाम लिए राष्ट्रपति पर निशाना साधा.

उन्होंने कहा, ''हमलोग अमरीका के एक महान सपूत को आख़िरी विदाई देने आए हैं. इस मौक़े पर हम उनकी बात नहीं करेंगे जो समर्पण की इस सीमा तक कभी पहुंच नहीं सकते. वो वैसे लोग हैं जो हमेशा एक ख़ास और आरामतलब दुनिया में रहे. लोग अमरीका को फिर से महान बनाना चाहते हैं, लेकिन मैक्केन का अमरीका हमेशा से महान था.''

एक अमरीकी राजनेता जो वियतनाम युद्ध का हीरो था

इमेज कॉपीरइट Getty Images

ट्रंप और मैक्केन के रिश्ते

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप और मैक्केन के बीच सालों से संबंध ख़राब थे. हाल के दिनों में मैक्केन भी ट्रंप की नीतियों को लेकर हमलावर रहे थे. अरिज़ोन के पूर्व रिपब्लिकन सीनेटर जॉन मैक्केन का 25 अगस्त को ब्रेन कैंसर से निधन हो गया था.

अमरीका के लगभग सारे बड़े राजनेता इस शोक सभा में मौजूद थे, लेकिन राष्ट्रपति ट्रंप नहीं आए. शोक सभा में ट्रंप का नहीं आना चर्चा का विषय बना हुआ है.

हालांकि मैक्केन के परिवारवालों ने भी साफ़ कर दिया था कि ट्रंप के आने को लेकर कोई दिलचस्पी नहीं है. इस मौक़े पर ओबामा ने मैक्केन की बहादुरी की जमकर तारीफ़ की.

मैक्केन अमरीकी नौसेना के बमवर्षक विमान के पायलट, एक युद्धबंदी, सीनियर सीनेटर और राष्ट्रपति के उम्मीदवार रहे थे.

उन्हें अमरीका में किसी हीरो की तरह देखा जाता था. मैक्केन अमरीकी राज्य अरिज़ोना के प्रभावी नेता थे. मैक्केन स्किन कैंसर से पीड़ित थे. जुलाई 2017 में पता चला कि वो मस्तिष्क में ट्यूमर की समस्या से भी जूझ रहे हैं. इसके बाद उन्हें वॉशिंगटन में इलाज के लिए शिफ़्ट किया गया था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

युद्धबंदी से राष्ट्रपति उम्मीदवार तक

अरिज़ोना से मैक्केन छह बार सीनेटर चुने गए. वो 2008 में रिपब्लिकन पार्टी की तरफ़ से राष्ट्रपति के उम्मीदवार भी बनाए गए. मैक्केन के पिता और दादा दोनों नेवी में एडमिरल थे.

वियतनाम युद्ध में वो लड़ाकू विमान के पायलट थे. इस युद्ध में मैक्केन के विमान को जब मार गिराया गया तो वो ख़ुद को बचाने में कामयाब रहे थे. वो वियतनाम में पांच सालों तक युद्धबंदी भी रहे थे. युद्धबंदी के दौरान उन्हें कई तरह की प्रताड़ना का भी सामना करना पड़ा था.

सीरिया के गृह युद्ध में अमरीका के हस्तक्षेप नहीं करने पर मैक्केन ने तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा की आलोचना की थी.

हालांकि मैक्केन ने अपनी राय रखने में पार्टी लाइन की भी परवाह नहीं की. वो ट्रंप की भी ख़ूब आलोचना करते थे. मैक्केन ट्रंप की सख़्त प्रवासी नीति के ख़िलाफ़ थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे