अलीबाबा के सीईओ से बेहतर टीचर बनना: जैक मा

  • 8 सितंबर 2018
जैक मा इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption सोमवार को जैक मा 54 साल के हो जाएंगे और वो इसी दिन अलीबाबा के सीईओ का पद भी छोड़ देंगे

चीन के सबसे अमीर शख़्सियतों में एक जैक मा ने अलीबाबा ई-कॉमर्स के कार्यकारी चेयरमैन से ख़ुद को अलग कर लिया है. न्यूयॉर्क टाइम्स में छपी रिपोर्ट के अनुसार जैक मा अलीबाबा के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर में बने रहेंगे.

जैक मा ने अलीबाबा की 1999 में स्थापना की थी. अलीबाबा दुनिया भर के ऑनलाइन बिज़नेस में एक बड़ा किरदार बनकर उभरा. अभी अलीबाबा 400 अरब डॉलर की कंपनी है.

इसमें ऑनलाइन कारोबार, फ़िल्म प्रोडक्शन और क्लाउड कंप्यूटर शामिल हैं. न्यूयॉर्क टाइम्स को दिए इंटरव्यू में अंग्रेज़ी के पूर्व शिक्षक जैक मा ने कहा है, ''रिटायरमेंट से युग ख़त्म नहीं होता है बल्कि युग की शुरुआत होती है. मैं शिक्षा से प्यार करता हूं.''

जैक मा ने कैसे बटोरी अथाह दौलत?

एशिया में अमेज़ॉन और अलीबाबा के बीच कड़ी टक्कर

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सोमवार को जैक मा 54 साल के हो जाएंगे. उनकी निजी संपत्ति 40 अरब डॉलर की है. फ़ोर्ब्स 2017 की लिस्ट के अनुसार जैक मा चीन में तीसरे सबसे अमीर व्यक्ति हैं.

इस हफ़्ते की शुरुआत में जैक मा ने ब्लूमबर्ग टीवी से कहा था कि वो एक निजी फाउंडेशन बनाना चाहते हैं. माइक्रोसॉफ़्ट के बिल गेट्स ने भी ऐसा ही किया है.

जैक मा ने कहा, ''बिल गेट्स से मैंने बहुत कुछ सीखा है. मैं केवल अमीर बनकर नहीं रह सकता. जल्दी रिटायर होने के चलते मैं एक काम बढ़िया से कर सकता हूं. मैं एक दिन वापस पढ़ाने के काम में आऊंगा. यह एक ऐसा काम है जो अलीबाबा के सीईओ बनने से बेहतर लगता है.''

जैक मा ने अपने पेशेवर जीवन की शुरुआत चीन में अंग्रेज़ी के शिक्षक के तौर पर की थी. उन्होंने अलीबाबा की शुरुआत भी चीनी शहर हांगचो में अपने फ्लैट से दोस्तों के साथ की थी.

पेटीएम पर चीनी कंपनी का नियंत्रण और बढ़ा

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए