अमरीका में भगवान गणेश की 'तुलना' पशु से की गई, छिड़ा विवाद

  • 21 सितंबर 2018
टेक्सास में भगवान गणेश का अपमान, रिपब्लिकन पार्टी, अमरीका इमेज कॉपीरइट Twitter/Sri Preston Kulkarni

भारत में गणेश उत्सव की धूम चल रही है तो अमरीका में भगवान गणेश को लेकर विवाद छिड़ गया है.

अमरीका के टेक्सास में रहने वाले हिंदुओं का कहना है कि वहां की राजनीतिक पार्टी ने उनके भगवान का मजाक़ बनाया है.

दरअसल राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप की रिपब्लिकन पार्टी ने टेक्सास के एक स्थानीय अख़बार में विज्ञापन दिया है, जिसमें भगवान गणेश के चित्र का इस्तेमाल किया है.

उस विज्ञापन में यह पूछा गया है कि "आप गधे की पूजा करेंगे या हाथी की? चुनना आपको है."

रिपब्लिकन पार्टी का चुनाव चिह्न हाथी है जबकि उनके प्रतिद्वंदी पार्टी डेमोक्रेटिक का गधा.

इमेज कॉपीरइट Fort Bend County Republican Party

विवाद बढ़ने पर मांगी माफ़ी

यह पहली बार नहीं है जब देश से बाहर हिंदुओं के देवता भगवान गणेश का इस्तेमाल किसी विज्ञापन में किया गया है और उस पर विवाद छिड़ा हो.

पिछले साल सितंबर के महीने में ही ऑस्ट्रेलिया के एक मांस उत्पादक समूह ने भगवान गणेश को मांस खाते एक विज्ञापन में दिखाया गया था, जिसके बाद वहां के हिंदुओं ने आपत्ति जताई थी.

भारत ने भी ऑस्ट्रेलिया के सामने अपना कूटनीतिक विरोध दर्ज कराया था.

अमरीका में भगवान गणेश के विज्ञापन पर बढ़े विवाद के बाद रिपब्लिकन पार्टी ने माफ़ी मांगी है. पार्टी ने अपने लिखित माफ़ीनामे में कहा है, "विज्ञापन का उद्देश्य पूजा से पहले लोगों को शुभकामानएं देने का था. इसका मक़सद हिंदुओं की भावना और उनकी संस्कृति की हंसी उड़ाना नहीं था. अगर किसी की भावना को ठेस पहुंची है तो हम लोग माफ़ी मांगते हैं."

इमेज कॉपीरइट Getty Images

भारतीयों के लिए छपने वाले अख़बार में दिया गया था विज्ञापन

गणेश चतुर्थी के शुरू होने से एक दिन पहले यानी 12 सितंबर को इंडिया हेराल्ड अख़बार में यह विवादित विज्ञापन का प्रकाश किया गया था.

इसके बाद अमरीका में सक्रिय हिंदू अमरीकन फाउंडेशन ने इस पर आपत्ति जताई थी. फाउंडेशन ने राजनीतिक विज्ञापन पर स्पष्टीकरण के साथ-साथ माफ़ी की मांग की थी.

फाउंडेशन के बोर्ड मेंबर ऋषि भूटाडा ने कहा, "हम हिंदुओं के महत्वपूर्ण त्योहार और उन तक पहुंचने की पार्टी की कोशिशों की सराहना करते हैं लेकिन विज्ञापन में भगवान गणेश को एक पशु के आधार पर राजनीतिक दल चुनने की अपील ग़लत थी."

उन्होंने कहा, "धर्म के प्रतीकों और इसके आधार पर वोट की अपील को सभी राजनीतिक दलों को नजरअंदाज़ करना चाहिए."

20 फ़ीसदी आबादी एशियाई लोगों की

वहीं, डेमोक्रेटिक के उम्मीदवार प्रेस्टन कुलकर्णी ने भी भगवान गणेश को पशु से तुलना करने पर आपत्ति जताई थी. उन्होंने रिपब्लिकन पार्टी से विज्ञापन को वापस लेने को कहा था.

यह पूरा विवाद टेक्सास के फोर्ट बेंड काउंटी में हुआ था, जहां क़रीब 20 प्रतिशत आबादी एशियाई लोगों की है. ये हिंदी, गुजराती और उर्दू भाषी हैं.

इस विज्ञापन को हिंदूओं को अपने पक्ष में लाने की रिपब्लिकन पार्टी की कोशिश के रूप में देखा जा रहा है. राष्ट्रपति चुनावों के दौरान भी डोनल्ड ट्रंप का हिंदू प्रेम देखने को मिला था.

न्यू जर्सी में एक प्रचार रैली में ट्रंप ने कहा था, "मैं हिंदू का बहुत बड़ा फ़ैन हूं और भारत का भी बहुत-बहुत बड़ा फ़ैन हूं."

इमेज कॉपीरइट Twitter/Sri Preston Kulkarni

क्या है विज्ञापन में

विज्ञापन में भगवान गणेश के अंगों की व्याख्या की गई है. जिसमें यह बताया गया है कि भगवान गणेश का माथा बड़ा होता है, जिससे वो कुछ अलग सोच पाते हैं.

उनकी बड़ी आंखें कुछ अलग देख पाती है. उनके बड़े कान दूसरों को ध्यान से सुनते हैं. उनका एक टूटा दांत त्याग को दर्शाता है.

भगवान गणेश का बड़ा पेट अच्छी और बुरी चीजों को शांति से पचा लेता है.

इस विज्ञापन के निचले हिस्से में रिपब्लिकन पार्टी का चुनाव चिह्न हाथी था और भगवान गणेश की तुलना इससे करते हुए लोगों से पूछा गया है कि क्या वो भगवान को चुनेंगे या फिर गधे को.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे