उर्दू प्रेस रिव्यूः पाकिस्तान में क्यों छाए क्रिकेटर इरफ़ान पठान

  • 28 अक्तूबर 2018
इरफ़ान पठान इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption इरफ़ान पठान

पाकिस्तान से छपने वाले उर्दू अख़बारों में इस हफ़्ते पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति और भारत प्रशासित कश्मीर से जुड़ी ख़बरें तो सुर्ख़ियां बटोरती ही रहीं, लेकिन इस हफ़्ते भारतीय क्रिकेटर इरफ़ान पठान भी पाकिस्तानी अख़बारों में छाए रहे.

सबसे पहले बात भारतीय क्रिकेटर इरफ़ान पठान की जो इस हफ़्ते पाकिस्तानी अख़बारों में हर जगह छाए रहे. मामला दरअसल ये है कि 27 अक्तूबर को इरफ़ान पठान का जन्मदिन था. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल ने उनको मुबारकबाद देते हुए पाकिस्तान का भी ज़िक्र किया.

अख़बार जंग ने सुर्ख़ी लगाई, ''आईसीसी ने इरफ़ान पठान के जन्मदिन पर भी पाकिस्तान को याद रखा.''

अख़बार की इस सुर्ख़ी के पीछे की कहानी ये है कि आईसीसी ने ट्वीटर पर इरफ़ान पठान को जन्मदिन की बधाई देते हुए एक वीडियो संदेश भी साझा किया है. इस संदेश में भारत-पाकिस्तान के बीच 2006 में कराची में खेले गए टेस्ट का ज़िक्र है.

इस टेस्ट में भारत ने पहले गेंदबाज़ी की थी और इरफ़ान पठान ने भारतीय गेंदबाज़ी की शुरूआत की थी. पहले ही ओवर में इरफ़ान पठान ने हैट्रिक बनाई थी. उन्होंने पहले ही ओवर में सलमान बट्ट, यूनिस ख़ान और मोहम्मद यूसुफ़ को लगातार तीन गेंदों पर आउट कर दिया था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

पाकिस्तान में मना काला दिवस

पाकिस्तान हर साल 27 अक्तूबर को काला दिवस मनाता है क्योंकि उसके अनुसार 1947 में इसी दिन (27अक्तूबर ) भारतीय सेना ने श्रीनगर पर क़ब्ज़ा जमा लिया था.

हालांकि भारत का कहना है कि कश्मीर के तत्कालीन शासक महाराजा हरि सिंह ने 26 अक्तूबर को ही अपनी रियासत के भारत में विलय के लिए संधि पर हस्ताक्षर कर दिए थे जिसके बाद भारतीय सेना कश्मीर को पाकिस्तानी क़बायली सेना के हमले से बचाने के लिए श्रीनगर पहुंची थी.

पाकिस्तान की सरकार ने लगभग सारे अख़बारों में काला दिवस के नाम से विज्ञापन दिया है. अख़बार नवा-ए-वक़्त के अनुसार पाकिस्तानी राष्ट्रपति आरिफ़ अलवी ने कहा कि पाकिस्तान कश्मीरियों का समर्थन जारी रखेगा. उनके अनुसार दुनिया भर के कश्मीरियों ने 27अक्तूबर को भारतीय 'क़ब्ज़े' के ख़िलाफ़ काले दिवस के रूप में मनाया.

अख़बार जंग के अनुसार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कहा कि 27 अक्तूबर कश्मीर की तारीख़ का सबसे काला दिन है क्योंकि भारत ने अंतरराष्ट्रीय क़ानून को रौंदते हुए इसी दिन कश्मीर पर क़ब्ज़ा किया था.

इमरान ख़ान ने कहा कि कश्मीर की बहादुर और दिलेर जनता दुनिया भर के लोगों के समर्थन की हक़दार है. उन्होंने एक बार फिर इस बात को दोहराया कि पाकिस्तान कश्मीरियों के संघर्ष में उनका नैतिक, राजनयिक और राजनैतिक समर्थन जारी रखेगा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

पाकिस्तान आया इसराइली विमान

अब बात एक इसराइली विमान के कथित तौर पर पाकिस्तान आने की.

पाकिस्तान की सोशल मीडिया में ये ख़बर फैल गई कि इसराइल का एक विमान पाकिस्तान आया है.

दरअसल इसकी शुरुआत हुई एक ट्वीट से. इसराइल के एक पत्रकार एवी शार्फ़ ने 25 अक्तूबर को ट्वीट किया कि इसराइल के तेल अवीव से एक विमान पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद आया और दस घंटे वहां रुकने के बाद वापस तेल अवीव लौट गया. पत्रकार के मुताबिक़ इसराइली विमान ने अम्मान में पांच मिनट का ब्रेक लिया था.

इस ट्वीट के बाद पाकिस्तानी सोशल मीडिया और फिर अख़बारों में ये ख़बर वायरल हो गई जिसके बाद पाकिस्तान की सरकार को आधिकारिक तौर पर बयान देना पड़ा.

अख़बार जंग के मुताबिक़ पाकिस्तानी सूचना एवं प्रसारण मंत्री फ़व्वाद चौधरी ने इस तरह की अफ़वाह को ख़ारिज करते हुए कहा, ''हम न मोदी जी से ख़ुफ़िया बातचीत करेंगे और न ही इसराइल से.''

फ़व्वाद चौधरी के इस बयान का समर्थन विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने भी किया, लेकिन फ़व्वाद चौधरी अपने एक दूसरे बयान की वजह से विवादों में घिर गए हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption पाकिस्तानी सूचना एवं प्रसारण मंत्री फ़व्वाद चौधरी

'नवाज़ शरीफ़ को सज़ा होगी'

अख़बार ख़बरें के अनुसार फ़व्वाद चौधरी ने कहा है कि 50 से ज़्यादा राजनेता जेल जाएंगे. मंत्री ने ये भी कहा कि अदालत का फ़ैसला आने वाला है और पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ को निश्चित तौर पर सज़ा होगी.

उनके इस बयान पर पाकिस्तान में बवाल मच गया है.

अख़बार जंग के अनुसार नवाज़ शरीफ़ के वकील ने भ्रष्टाचार निरोधी अदालत से अपील की है कि वो फ़व्वाद चौधरी के बयान का संज्ञान लेते हुए उनको नोटिस जारी करे. अदालत ने कहा कि नवाज़ शरीफ़ के वकील 29 अक्तूबर को अदालत के सामने लिखित शिकायत करें उसके बाद उनकी अपील पर विचार किया जाएगा.

अख़बार एक्सप्रेस के मुताबिक़ नवाज़ शरीफ़ के वकील ने अदालत से कहा कि फ़व्वाद चौधरी ने अदालती फ़ैसले को प्रभावित करने की कोशिश की है और अगर अदालत उन्हें तलब नहीं करती है तो इससे अदालत की साख पर असर पड़ेगा.

इमेज कॉपीरइट PML(N) @TWITTER

लेकिन अपना बचाव करते हुए फ़व्वाद चौधरी ने कहा कि वो तो पिछले दो साल से कह रहे हैं कि नवाज़ शरीफ़ जेल जाएंगे.

और अब बात पाकिस्तान की बिगड़ती अर्थव्यवस्था की. सऊदी अरब से 600 करोड़ डॉलर मिलने के बाद पाकिस्तान ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से मदद की गुहार लगाई है.

अख़बार एक्सप्रेस ने सुर्ख़ी लगाई है, ''पाकिस्तान ने अमीरात से भी छह अरब डॉलर का आर्थिक पैकेज मांग लिया.''

अख़बार जंग के मुताबिक़ विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने अमीरात के एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधि मंडल से मुलाक़ात करने के बाद कहा कि यूएई पाकिस्तान में तेल रिफ़ाइनरी और आधुनिकतम एलएनजी टर्मिनल स्थापित करेगा.

ये भी पढें:-

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए