#Balakot: भारतीय विमानों ने कैसे किया LOC पार

  • 26 फरवरी 2019
मिराज इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption मिराज विमानों ने लिया अभियान में हिस्सा (फ़ाइल तस्वीर)

भारत सरकार का कहना है कि उन्हें ख़ुफ़िया जानकारी मिली थी कि जैश-ए-मोहम्मद के चरमपंथी भारत में कई जगहों पर आत्मघाती हमले की तैयारी कर रहे थे जिसके बाद नियंत्रण रेखा पार कर कार्रवाई का फ़ैसला किया गया.

अब तक की मुख्य बातेंः

  • सबसे पहले पाकिस्तानी सेना ने ट्वीट कर दावा किया कि भारतीय विमानों ने नियंत्रण रेखा को पार किया.
  • पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफ़ूर ने दावा किया कि उनकी जवाबी कार्रवाई के बाद वो भाग निकले और जाते हुए बालाकोट के पास कुछ पेलोड गिरा गए.
  • कुछ घंटे बाद भारत की ओर से विदेश सचिव विजय गोखले ने अभियान की जानकारी देते हुए कहा कि मंगलवार तड़के भारतीय विमानों ने बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े ट्रेनिंग कैंप को निशाना बनाया.
  • विदेश सचिव ने बताया कि भारत को देश के कई हिस्सों में आत्मघाती हमले की तैयारी की सूचना मिली थी जिसके बाद नियंत्रण रेखा पार कर हमले करना ज़रूरी हो गया.

ऐसे LoC के दूसरी ओर पहुँचे विमान

वायुसेना के अधिकारियों ने बीबीसी संवाददाता जुगल पुरोहित को इस कार्रवाई की जानकारी देते हुए बताया कि मंगलवार तड़के अंबाला से कई मिराज विमान उड़े और बिना अंतरराष्ट्रीय सीमा का उल्लंघन किए, निश्चित लक्ष्यों पर बम बरसाए.

विमानों ने एलओसी को पार किया और नियंत्रण रेखा के नज़दीक बालाकोट नाम के एक क़स्बे पर बम गिराए.

वायु सेना के अधिकारियों ने बताया कि ये सारा अभियान आधे घंटे में पूरा हुआ. विमान तीन बजे तड़के उड़े और साढ़े तीन बजे तक सभी विमान सुरक्षित लौट आए.

इमेज कॉपीरइट Twitter/OfficialDGISPR
Image caption यह तस्वीर पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट की थी

पाकिस्तानी सेना का बयान

पाकिस्तानी सेना ने सुबह बताया कि भारतीय वायुसेना ने भारत-पाक नियंत्रण रेखा (एलओसी) का उल्लंघन किया है और पाकिस्तान की सीमा में घुसपैठ करने की कोशिश की.

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट किया कि मुज़फ़्फ़राबाद सेक्टर से भारतीय विमानों ने घुसपैठ की कोशिश की, जिसके बाद पाकिस्तानी सेना ने त्वरित कार्रवाई की है.

उन्होंने ट्वीट किया, "भारतीय विमानों ने मुज़फ़्फ़राबाद सेक्टर से घुसपैठ की. पाकिस्तानी वायु सेना की तरफ़ से तत्काल और प्रभावी कार्रवाई की गई जिसके बाद वो भागने लगे."

"भागते हुए उन्होंने हड़बड़ा कर कुछ बम गिराए जो बालाकोट के नज़दीक गिरे. इसमें कोई नुक़सान या कोई हताहत नहीं हुआ है."

'पीएम मोदी ने दी थी सेना को छूट'

अभियान के बारे में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, "देश की रक्षा के लिए बहुत ज़बरदस्त क़दम उठाया है सेना ने, और सेना को इस तरह का क़दम उठाने की छूट प्रधानमंत्री मोदी जी ने दी थी. अब सेना के पीछे पूरा देश खड़ा है".

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी वायुसेना को बधाई देते हुए ट्वीट किया - "मैं भारतीय वायुसेना के पायलटों को सलाम करता हूँ."

भारतीय वायुसेना के अभियान की ख़बर ऐसे वक़्त में आई है जब भारत और पाकिस्तान के बीच पुलवामा हमले को लेकर तनाव की स्थिति है.

14 फ़रवरी को हुए हमले के बाद भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि सुरक्षाबलों को ख़ुली छूट दे दी गई है.

वहीं पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कहा था कि अगर पाकिस्तान पर हमला होता है तो पाकिस्तान भी जवाबी कार्रवाई करेगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार