ब्रितानी सांसदों ने बिना समझौते ब्रेक्सिट का प्रस्ताव ख़ारिज किया

  • 14 मार्च 2019
टेरीज़ा मे इमेज कॉपीरइट HOC

ब्रितानी सांसदों ने यूरोपीय संघ से बिना किसी समझौते से बाहर निकलने के प्रस्ताव को 308 के मुकाबले 312 वोटों से ख़ारिज कर दिया है.

यह क़ानूनी रूप से बाध्यकारी फ़ैसला नहीं है और इसका मतलब यह नहीं है कि यूके यूरोपीय संघ से बाहर नहीं निकलेगा.

मगर इसका मतलब है कि अब सांसद इस बात पर वोट कर सकते हैं कि ब्रेक्सिट को टाला जाए या नहीं.

इस बात पर मतदान अब गुरुवार को होगा. अगर ब्रेक्सिट को टालने का प्रस्ताव पारित हो गया और यूरोपीय संघ भी इसके लिए तैयार हो जाता है तो यूके पहले से निर्धारित तारीख़ (29 मार्च) को यूरोपीय संघ से बाहर नहीं जाएगा.

सरकार ने बिना किसी समझौते के 29 मार्च को यूरोपीय संघ से निकलने का प्रस्ताव रखा है मगर सांसदों ने इस बात को लेकर वोट दिया है कि वे किसी भी शर्त पर बिना समझौते के ब्रेक्सिट से बाहर नहीं जाएंगे.

अब सांसद सरकार के प्रस्ताव पर वोट कर रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters

'प्रबंधित ब्रेक्सिट' के आसार

सांसदों ने यूरोपीय संघ से यूके से बाहर जाने को 22 मई, 2019 तक टाले जाने के प्रस्ताव को भी 164 के मुकाबले 374 वोटों से खारिज कर दिया.

इसका मतलब यह हुआ है कि बिना समझौते के 'प्रबंधित ब्रेक्सिट' हो सकेगा.

इस प्रस्ताव को प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे के पूर्व करीबी सहयोगी कंज़रवेटिव सांसद डेमियन ग्रीन ने पेश किया था और ब्रेक्सिट का समर्थन और विरोध करने वाले प्रमुख नेताओं ने इसका समर्थन किया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार