'हवा छोड़ने' पर कर्मचारी ने कोर्ट में घसीटा, लाखों के हर्जाने की मांग

  • 26 मार्च 2019
बुलींग इमेज कॉपीरइट iStock

ऑस्ट्रेलिया में एक इंजीनियर ने एक अजीबोगरीब मामले में आरोप लगाया है कि उनका एक पूर्व सुपरवाइज़र उनकी ओर हवा या गैस छोड़ उन्हें प्रताड़ित करता था.

डेविड हिंग्स्ट ने आरोप लगाया कि उनके पूर्व सहकर्मी ग्रेग शॉर्ट दिन में छह बार उनकी ओर मुड़कर गैस छोड़ते थे.

उनका कहना है कि सुपरवाइज़र उन्हें नौकरी से हटाना चाहते थे जिसके लिए ही वो ये हरकत किया करते थे.

उन्होंने इस मामले को लेकर पिछले साल अपनी कंपनी पर लगभग 90 लाख रुपए के हर्ज़ाने का दावा ठोका था मगर अदालत ने उसे ये कहते हुए ख़ारिज कर दिया कि ये बुलिंग यानी डराने-धमकाने का मामला नहीं बनता.

हिंग्स्ट ने फ़ैसले को चुनौती दी है जिसपर अब शुक्रवार को फ़ैसला आएगा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मानसिक पीड़ा

56 साल के डेविड हिंग्स्ट का कहना है कि अपने पूर्व सुपरवाइज़र की हरकत की वजह से उन्हें काफ़ी 'मानसिक पीड़ा' उठानी पड़ी.उन्होंने समाचार एजेंसी ऑस्ट्रेलियन एसोसिएटेड प्रेस से कहा, "मैं दीवार की ओर मुंह करके बैठा होता और वो कमरे में गैस छोड़ कर चले जाते थे. वो कमरा बहुत ही छोटा था और उसमें कोई खिड़की भी नहीं थी."

हिंग्स्ट के अनुसार, वो दिन भर में पांच या छह बार ऐसा करते थे.

हालांकि शॉर्ट ने इन आरोपों से इनकार किया और कहा है कि अगर कभी ऐसा हुआ भी हो तो ये किसी मंशा से नहीं था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए