ब्रेग्ज़िट पर आज अहम वोट डालेंगे ब्रितानी सांसद

  • 29 मार्च 2019
ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे

ब्रेग्ज़िट के मुद्दे पर ब्रिटेन के सांसद शुक्रवार को एक बार फिर वोट डालेंगे. हालांकि यह वोटिंग सिर्फ़ यूरोपीय संघ के साथ हुए समझौते के हिस्सों पर ही की जाएगी.

ब्रिटेन के सांसद शुक्रवार को आयरलैंड सीमा पर हुए समझौते यानी आइरिश बैकस्टॉप, यूरोपीय संघ और ब्रिटेन के अलग होने पर पैसों के लेन-देन जिसे 'तलाक़ बिल' कहा जा रहा है और नागरिकों के अधिकारों पर वोट डालेंगे.

इस वोटिंग में यूरोपीय संघ के साथ ब्रिटेन के भविष्य के बारे में मत नहीं डाले जाएंगे.

ब्रिटेन में हाउस ऑफ कॉमन्स की नेता एंड्रिया लीडसम ने बताया कि आखिर यह वोटिंग इतनी अहम क्यों है. उन्होंने कहा, ''मिस्टर स्पीकर सरकार की ओर से आज दोपहर में जो प्रस्ताव पेश किया जाएगा, उसे आपके आदेश के तहत ही तैयार किया गया है. इसके साथ ही यह देखने को मिला है कि यूरोपीय संघ अनुच्छेद 50 की तारीख को आगे बढ़ाकर 22 मई करने के लिए तभी सहमत होगा जब हम 29 मार्च को रात 11 बजे से पहले यूरोपीय संघ के साथ हुए समझौते को पारित कर दें. ऐसे में ज़रूरी है कि हम इस मुद्दे पर ज़रूरी वोटिंग करवाएं.''

29 मार्च 2017 वो दिन था जब ब्रिटेन की सरकार ने आर्टिकल 50 लागू किया था जिसके तहत ठीक दो साल बाद ब्रेग्ज़िट लागू होना है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इस बीच कई ब्रितानी सांसद यूरोपीय संघ के साथ हुए समझौते पर अपनी नाराज़गी जता चुके हैं. लेबर पार्टी और डेमोक्रेटिक यूनियनिस्ट पार्टी ने कहा है कि वे इस समझौते के विरोध में वोट डालेंगे.

सदन में नॉर्थ आयरलैंड के शैडो सेक्रेटरी टोनी लॉयड ने कहा है कि वे इस वोटिंग का समर्थन नहीं करते.

उन्होंने कहा, ''पिछले साल दिसंबर में जो समझौता हुआ वह बिना सोचे समझे लिया गया फैसला था. इसके अलावा बीते कुछ हफ़्तों में भी जो कुछ घटित हुआ है उसके बुरे परिणाम आने वाले वक़्त में देखने को मिलेंगे.''

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इस बीच लंदन में मौजूद बीबीसी की राजनीतिक संपादक लौरा कुएंसबर्ग ने बताया है कि ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने अपने सांसदों से वोटिंग को दो हिस्सों में बांटकर समझने की अपील की है.

उन्होंने कहा है कि वोटिंग के पहले भाग में ब्रिटेन के यूरोपीय संघ से अलग होने के महत्व को देखा जाए और आने वाले हफ्तों में जो वोटिंग होगी उसमें भविष्य के बारे में सोचा जाए.

हालांकि अभी भी साफ नहीं है कि सदन में वोटिंग के दौरान यूरोपीय संघ के साथ हुए समझौतों पर सांसद एकमत हो पाएंगे या नहीं.

इससे पहले भी हाउस ऑफ कॉमन्स में प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे के ब्रेग्ज़िट प्लान पर आठ संभावित विकल्पों के ख़िलाफ़ वोटिंग हुई थी. किसी विकल्प को मतदान के दौरान बहुमत हासिल नहीं हुआ था.

ये भी पढ़ेंः

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे