श्रीलंका: पुलिस और संदिग्धों में गोलीबारी, 15 शव मिले

  • 27 अप्रैल 2019
इमेज कॉपीरइट Getty Images

श्रीलंका में एक तलाशी के दौरान हुए धमाके के बाद छह बच्चों समेत 15 लोगों के शव मिले हैं. पुलिस ने बताया कि उन्हें ये शव कुछ संदिग्ध इस्लामिक चरमपंथियों के ठिकानों की तलाशी के दौरान मिले.

पुलिस का कहना है कि मारे गए लोगों में संदिग्ध चरमपंथियों के परिवार की तीन महिलाएं भी शामिल हैं. यहां रहने वाले लोगों का कहना है कि पहले उन्होंने एक धमाके की आवाज़ सुनी और फिर गोलियों की आवाज़.

यह धमाका बाटिकालोआ के करीब अंपारा सैनथमारुथू के एक घर में हुआ. पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक, इनमें से छह आत्मघाती हमलावर बताए जा रहे हैं. इलाक़े की तलाशी ली जा रही है.

श्रीलंका में बीते रविवार को तीन चर्च और तीन होटलों को निशाना बनाकर धमाके किए गए थे. इन धमाकों में कम से कम 250 लोगों की मौत हो गई थी.

उधर और हमलों की आशंका के मद्देनज़र कैथोलिक चर्च ने रविवार को होनी वाली प्रार्थना सभा रद्द कर दी है.

कोलंबो के आर्कबिशप मैल्कम रंजीत ने बताया है कि उन्होंने सुरक्षा से जुड़ा एक लीक हुआ दस्तावेज़ देखा है जिसमें और हमलों की चेतावनी दी गई है.

इमेज कॉपीरइट AFP

आर्कबिशप ने ये भी कहा है कि सरकार के धमाकों की चेतावनी पर कार्रवाई न कर पाने को लेकर वो 'ठगा' महसूस कर रहे हैं.

श्रीलंका के प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने कहा है कि उन्हें धमाकों की चेतावनी देने वाली ख़ुफिया सूचना नहीं मिली थी.

श्रीलंका ने हमले में शामिल लोगों को पकड़ने और धार्मिक स्थानों की सुरक्षा के लिए करीब दस हज़ार सुरक्षा जवानों को तैनात किया है.

श्रीलंका प्रशासन ने धमाके के लिए स्थानीय अतिवादी समूह नेशनल तौहीद जमात (एनटीजे) को जिम्मेदार बताया है. इस्लामिक स्टेट ने भी हमले की जिम्मेदारी ली है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

ताज़ा घटनाक्रम

श्रीलंका पुलिस के मुताबिक कि देश के पूर्वी भाग में एक सशस्त्र समूह के साथ हुई मुठभेड़ में दोनों तरफ से गोलीबारी हुई. पुलिस के मुताबिक बीते रविवार को हुए धमाकों को लेकर की जा रही जांच के दौरान ये गोलीबारी हुई.

श्रीलंका सेना के एक प्रवक्ता ने बताया है कि बाटिकालोआ के करीब अंपारा सैनथमारुथू में पुलिस की छापे की कार्रवाई के दौरान एक धमाका हुआ. श्रीलंका में मौजूद बीबीसी संवाददाता आज़म अमीन ने पुलिस के हवाले से बताया है, "जिस घर में धमाका हुआ वहां से 15 शव बरामद किए गए हैं जिनमें छह शव बच्चों के हैं."

श्रीलंका के प्रधानमंत्री: धमाकों से जुड़े इंटेलिजेन्स की मुझे कोई जानकारी नहीं थी

'मारा गया श्रीलंका धमाकों का मुख्य हमलावर'

पुलिस के मुताबिक अंपारा सैनथमारुथु में शुक्रवार को छापे की कार्रवाई की गई. इस दौरान एक सशस्त्र समूह ने धमाका कर दिया. पुलिस और समूह के बीच गोलीबारी भी हुई.

एक अन्य जगह मारे गए छापे में पुलिस को 150 डायनामाइट की छड़ें और ड्रोन कैमरा मिले हैं.

स्थानीय मीडिया ने पुलिस के हवाले से 10 लोगों को गिरफ़्तार किए जाने की जानकारी दी है. अब तक कुल 80 लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है.

राजनीतिक घटनाक्रम

धमाकों के बाद श्रीलंका के पुलिस प्रमुख और रक्षा विभाग के आला अधिकारी इस्तीफा दे चुके हैं.

प्रधानमंत्री विक्रमसिंघे ने कहा है कि उन्हें ख़ुफिया जानकारी नहीं थी. इसलिए वो पद नहीं छोड़ेंगे.

धमाके के बाद प्रधानमंत्री विक्रमसिंघे और राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरीसेना के रिश्तों की खटास एक बार फिर चर्चा में है. बीते साल अक्टूबर में राष्ट्रपति सिरीसेना ने प्रधानमंत्री विक्रमसिंघे को बर्खास्त कर दिया था. श्रीलंका की सर्वोच्च अदालत के आदेश के बाद वो अपने पद पर लौटे.

हमलावरों के बारे में क्या जानकारी है?

श्रीलंका में बीते रविवार हुए हमले के लिए नौ संदिग्धों को जिम्मेदार बताया गया है. राष्ट्रपति सिरीसेना के मुताबिक हमलों को अंजाम देने वालों को कथित अगुवा ज़हरान हाशिम राजधानी कोलंबो के शांगरी-ला होटल में हुए हमले में मारा गया.

दो हमलावर श्रीलंका के सबसे अमरी लोगों में शामिल मोहम्मद यूसुफ इब्राहिम के बेटे बताए जा रहे हैं. हमले के बाद इब्राहिम को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार