इसराइल ने गज़ा पट्टी में दिया बड़े हमले का आदेश

  • 5 मई 2019
इसराइल इमेज कॉपीरइट EPA

गज़ा पट्टी में इसराइल और चरमपंथियों के बीच झड़पें जारी हैं. हाल के वर्षों में यह सबसे भीषण झड़पें बताई जा रही हैं.

इसराइली सेना का कहना है कि इस हफ़्ते के अंत तक फ़लस्तीनी चरमपंथियों ने इसराइली इलाक़े में 600 रॉकेट दागे हैं.

इसराइल का कहना है कि गज़ा पट्टी में उसने 260 ठिकानों को निशाने पर लिया है और वो आगे और बड़े हमले कर सकता है.

गज़ा के अधिकारियों का कहना है कि शुक्रवार से अब तक 9 फ़लस्तीनी मारे गए हैं. रविवार को इसराइल के प्रधानमंत्री बेन्यामिन नेतन्याहू ने कहा कि उन्होंने गज़ा पट्टी में आतंकवादियों के ठिकानों पर बड़े हमले के आदेश दिए हैं.

नेतन्याहू ने कहा कि गज़ा में इसराइली सेना पूरी तैयारी के साथ तैनात है. पिछले महीने युद्धविराम पर सहमति के बाद भी संघर्ष जारी है. मिस्र और संयुक्त राष्ट्र लंबे समय के लिए युद्धविराम की कोशिश कर रहे थे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

शुक्रवार को गज़ा में नाकेबंदी के ख़िलाफ़ प्रदर्शन हो रहा था. इसी प्रदर्शन के दौरान हिंसा भड़की. इसराइल का कहना है कि वो चरमपंथियों के पास हथियारों को पहुँचने से रोकना चाहता है.

इसी प्रदर्शन में एक फ़लस्तीनी बंदूकधारी ने दो इसराइली सैनिकों को सरहद पर लगी बाड़ के पास गोली मारकर ज़ख़्मी कर दिया था. इसके बाद इसराइल ने हवाई हमला कर दो चरमपंथियों को मार दिया. इसके बाद से दोनों तरफ़ से हमले जारी हैं. इसमें इसराइल के कुछ गांव भी प्रभावित हुए हैं.

उत्तरी गज़ा से 10 किलोमीटर दूर अशकेलोन के अस्पताल में पिछले 24 घंटों में 100 नागरिकों को इलाज के लिए भर्ती किया गया है. इनमें से तीन की मौत हो गई है और तीन गंभीर रूप से ज़ख़्मी हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार