ट्रंप ने साइबर हमले की आशंका में नेशनल इमरजेंसी घोषित की

  • 16 मई 2019
डोनल्ड ट्रंप इमेज कॉपीरइट EPA

राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने विदेशी साइबर हमले की स्थिति में अमरीकी कंप्यूटर्स को बचाने के लिए राष्ट्रीय आपातकाल घोषित कर दिया है.

ट्रंप ने एक कार्यकारी आदेश जारी कर राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा की.

उनके इस आदेश के तहत अमरीकी कंपनियों को विदेशी टेलीकॉम सेवाओं का उपयोग करने से प्रतिबंधित किया गया है. आदेश में कहा गया है कि इन विदेशी टेलीकॉम सेवाओं से राष्ट्रीय सुरक्षा को ख़तरा हो सकता है.

ट्रंप ने अपने आदेश में किसी कंपनी का नाम नहीं लिया है.

हालाँकि विश्लेषकों का मानना है कि राष्ट्रपति ट्रंप ने ये कदम विशेष तौर पर चीन की टेलीकॉम कंपनी ख्वावे को लेकर उठाया है.

कई देशों ने आशंका जताई है कि इस कंपनी के उत्पादों का इस्तेमाल चीन निगरानी के लिए कर सकता है.

टेलीकॉम उपकरण बनाने वाली दुनिया की इस सबसे बड़ी कंपनी ख्वावे ने हालाँकि इन आशंकाओं को निराधार बताया है और कहा है कि उसके काम से किसी को नुकसान नहीं होगा और न ही जासूसी का ही कोई जोखिम है.

व्हाइट हाउस के बयान के मुताबिक ट्रंप के आदेश का मकसद "अमरीका को विदेशी दुश्मनों से बचाना है जो कि सक्रिय तौर पर लगातार सूचना और संचार तकनीकी और सेवाओं का उपयोग से अतिसंवेदनशील बने हुए हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार