पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद ख़क़ान अब्बासी गिरफ़्तार

  • 18 जुलाई 2019
शाहिद ख़क़ान अब्बासी इमेज कॉपीरइट AFP Contributor
Image caption पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद ख़क़ान अब्बासी गिरफ़्तार

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद ख़क़ान अब्बासी को नेशनल एकाउंटिबिलिटी ब्यूरो यानी एनएबी के 12 सदस्यों की टीम ने गिरफ़्तार कर लिया है.

अब्बासी को सैकड़ों अरब रुपए के लिक्विफाइड नेचुरल गैस (एलएनजी) के आयात के अनुबंध देने में गड़बड़ी के मामले में गिरफ़्तार किया गया है.

पाकिस्तान के समाचार चैनल डॉन न्यूज़ टीवी के अनुसार अब्बासी प्रेस कॉन्फ़्रेंस करने के लिए निकले थे तभी उन्हें गिरफ़्तार कर लिया गया.

अब्बासी के साथ पीएमएल-एन नेता अहसान इक़बाल भी थे. अब्बासी ने शुरू में गिरफ़्तारी का विरोध किया लेकिन बाद में उन्होंने ख़ुद को एनएबी के हवाले कर दिया.

प्रक्रिया के तहत उन्हें शुक्रवार को एकांटिबिलिटी कोर्ट में पेश किया जाएगा. एक मेडिकल टीम उनकी सेहत की भी जांच करेगी. एनएबी ने एलएनजी मामले में पेश होने के लिए उन्हें समन भेजा था लेकिन वो हाज़िर नहीं हुए थे.

पूर्व राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी और पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ भी भ्रष्टाचार के मामले में जेल में हैं.

अब्बासी विपक्षी पार्टी पीएमएल-एन यानी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज़ के दूसरे बड़े नेता हैं जिन्हें गिरफ़्तार किया गया है. एनएबी के अधिकारियों ने अब्बासी को लाहौर टोल प्लाज़ा के पास रोक लिया था. वो पीएमएल-एन के प्रमुख और नवाज़ शरीफ़ के भाई शहबाज़ शरीफ़ से मिलने जा रहे थे.

पीएमएल-एन के प्रवक्ता मरियम औरंगज़ेब ने गिरफ़्तारी की निंदा की है. औरंगज़ेब ने कहा कि अब्बासी को एनएबी ने बिना वॉरंट के गिरफ़्तार किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे