महाराष्ट्र चुनावः सीएम पद को लेकर शिवसेना-बीजेपी आमने सामने?

  • 24 अक्तूबर 2019
बीजेपी-शिवसेना इमेज कॉपीरइट Getty Images

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में अब तक की जानकारी के मुताबिक़ बीजेपी-शिवसेना गठबंधन 161 सीटों पर बढ़त बनाए हुए हैं. वहीं कांग्रेस-एनसपी गठबंधन के खाते में अभी 98 सीटें जाती नज़र आ रही हैं.

बीजेपी गठबंधन ने सरकार बनाने के लिए ज़रूरी 145 सीटों का आंकड़ा पार कर लिया है लेकिन राज्य का अगला मुख्यमंत्री शिवसेना से होगा या बीजेपी से इस पर दोनों पार्टियों की ओर से बयान सामने आ रहे हैं और असमंजस की स्थिति बरक़रार है.

चुनाव के रुझानों में तस्वीर साफ़ होने के बाद गुरुवार शाम को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने पार्टी मुख्यालय पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की और 50-50 के फ़ॉर्मूले पर ज़ोर डाला. उन्होंने कहा, ''50-50 के फ़ॉर्मूले पर बात हुई थी, जो तय हुआ है, वही होगा.''

अब कोई छोटा भाई नहीं- उद्धव

अब तक राज्य में शिवसेवा को बीजेपी का 'छोटा भाई' कहा जाता रहा है लेकिन उद्धव ठाकरे ने साफ़ कहा, ''अब बड़ा भाई या छोटा भाई जैसा कुछ बचा नहीं है. पावर शेयरिंग पहले से तय थी. मुख्यमंत्री कौन होगा और पावर शेयरिंग का समीकरण क्या होगा ये दोनों पार्टियों के बड़े नेता तय करेंगे. ज़रूरत हुई तो बीजेपी अमित शाह भी यहां आएंगे. ''

इमेज कॉपीरइट Getty Images

क्या राज्य को शिवसेना का मुख्यमंत्री मिलेगा, इस सवाल पर उनका जवाब था, ''आपके मुंह में घी शक्कर.''

चुनावी राजनीती में क़दम रखने वाले उनके बेटे आदित्य ठाकरे की वर्ली सीट से जीत पर उन्होंने कहा, ''आदित्य पर अभिमान है, जनता ने आशीर्वाद दिया है. मैं जनता के सामने नत-मस्तक हूं. जनता का आशीर्वाद आदित्य और पार्टी पर बना रहे यही हमारी ताक़त है. ये जनादेश आंखे खोलने वाला है.''

एनसीपी और शरद परवार पर उद्धव ठाकरे का रूख़ थोड़ा नरम नज़र आया. जब उनसे एनसीपी के बेहतर प्रदर्शन को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा, ''एनसीपी को जो जनादेश मिला है मुझे उससे कोई परेशानी नहीं है. व्यक्ति केंद्रित प्रचार ना होकर राज्य के मुद्दे सर्वोपरि होने चाहिए.''

सब पहले से तय फॉर्मूले पर ही होगा: फडवीस

इसके बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री पद और सरकार बनाने के सवाल पर कहा, ''शिवसेना और हमारे बीच जो तय हुआ है हम उसके मुताबिक़ ही आगे बढ़ेंगे और सही वक़्त पर आपको हमारा फ़ैसला पता चल जाएगा. सीएम कौन होगा इसका जवाब मैं चुनाव से पहले दे चुका है. वहीं आगे होने वाला है.''

आपको पता दें कि चुनाव से पहले देवेंद्र फणनवीस ने कहा था कि ''सीएम का पद रिज़र्व है, शिवसेना डिप्टी सीएम पद पर विचार कर सकती है.''

इमेज कॉपीरइट Getty Images

बीजेपी को 2014 विधानसभा चुनाव के मुक़ाबले इस बार कम सीटें मिलती दिख रही हैं.

इस पर फडणवीस ने कहा, ''इस जनादेश के लिए जनता का आभार व्यक्त करता हूं. मैं उद्धव जी और अठावले जी का आभार व्यक्त करता हूं. फिर एकबार बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर आई है. ये सही है कि हमें पिछले साल से कम सीटें आई हैं, लेकिन हमने 150 सीटों पर चुनाव लड़ा. हमारा स्ट्राइक रेट 70 फ़ीसदी है. 150 सीट पर चुनाव लड़कर 26 फ़ीसदी वोट शेयर मिला है.''

फडणवीस ने ख़ुद को अगला मुख्यमंत्री समझते हुए पूरे आत्मविश्वास के साथ कहा, ''मुझे लगता है हमें इसे सीटों के अनुपात में समझना चाहिए. हमारी सीटें कम हुई हैं लेकिन विपक्ष की सीटें बहुत बढ़ी हैं ऐसा भी नहीं है. मैं जनता को आश्वस्त करता हूं कि हम उनकी अपेक्षाओं पर खरे उतरेंगे. हम सरकार में वापसी कर रहे हैं इसमें कोई शक नहीं है. एनडीए पर जनता ने यक़ीन जताया है.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार