ब्रिटेन: रेफ़्रिजेरेटेड लॉरी में 39 शव का मामला उलझा

रॉबिन्सन

इमेज स्रोत, FACEBOOK

एक रेफ़्रिजेरेटेड ट्रेलर में 39 लोगों के शव के मामले में लॉरी के ड्राइवर को हत्या के मामले में अभियुक्त बनाया गया है.

बुधवार को एसेक्स के ग्रेस शहर में जब इस लॉरी के ट्रेलर में 31 पुरुषों और आठ महिलाओं के शव मिले तो 25 साल के मोरिस रॉबिन्सन को गिरफ़्तार किया गया था. रॉबिन्सन को मानव तस्करी, प्रवासी और मनी लॉन्डरिंग के मामले में भी अभियुक्त बनाया गया है.

रॉबिन्सन उत्तरी आयरलैंड के क्रिगैवन से लॉरी चलाकर एसेक्स पहुंचे थे. रॉबिन्सन को चेम्सफ़ोर्ड मैजिस्ट्रेट कोर्ट में सोमवार को पेश किया जाएगा.

इसके साथ ही इस मामले में वॉरिंगटन के 38 साल के एक पुरुष और चेशर की एक महिला के अलावा उत्तरी आयरलैंड के 48 साल के एक व्यक्ति को पुलिस हिरासत में लिया गया है. इन तीनों को मानव तस्करी और हत्या के मामले में गिरफ़्तार किया गया है.

इमेज स्रोत, PA MEDIA

पुलिस ने पहले कहा था कि वो सभी 39 शवों की पहचान करने की कोशिश कर रही है. इससे पहले कहा गया था कि सारे शव चीन के नागरिकों के हैं लेकिन अब इनके बारे में वियतनाम के होने की भी बात कही जा रही है.

39 शवों को रेफ़्रिजेरेटेड ट्रेलर में बेल्जियन पोर्ट से होते हुए ब्रिटेन लाया गया था. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि बुधवार को शव मिलने के बाद से जांच में वियतनाम के कई लोग सामने आए हैं.

पुलिस का कहना है कि ट्रेलर से सारे शवों को निकाल लिया गया है और पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है. सारे पीड़ितों के पास से कोई ठोस पहचान पत्र नहीं मिला है. पुलिस अधिकारी फिंगर प्रिंट और डीएनए के ज़रिए लोगों की पहचान की कोशिश कर रहे हैं.

ब्रिटेन में वियतनाम के लोगों का प्रतिनिधित्व करने वाला संगठन वियतहोम का कहना है कि उसे अब तक वैसी 20 तस्वीरें मिली हैं जो कि ग़ायब हैं. बीबीसी ने वियतनाम के ऐसे परिवारों से संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि वो डरे हुए हैं कि कहीं इन शवों में उनके परिजन तो नहीं हैं.

इनमें 26 साल की फाम थी तरा हैं, जिन्होंने आख़िरी बार मंगलवार की रात अपने परिवार वालों को मेसेज किया था. उनके माता-पिता ने बीबीसी से वो मेसेज साझा किया, जिसमें उन्होंने लिखा था, ''माँ और पापा. मुझे माफ़ कीजिएगा. विदेश जाने की मेरी हसरत नाकाम हो गई है. मैं मर रही हूं. अब मैं नहीं बच सकती. मैं आप दोनों से बहुत प्यार करती हूं. मां मुझे माफ़ करना.''

छोड़कर पॉडकास्ट आगे बढ़ें
पॉडकास्ट
बात सरहद पार

दो देश,दो शख़्सियतें और ढेर सारी बातें. आज़ादी और बँटवारे के 75 साल. सीमा पार संवाद.

बात सरहद पार

समाप्त

न्ग्युयेन दिन्ह को भी लगता है कि इन 39 शवों में उनके 20 साल के बेटे न्ग्युयेन दिन्ह लुओंग का भी है. उनका कहना है कि बेटे पर क़र्ज़ था इसलिए विदेश जाने का फ़ैसला किया था.

उन्होंने बीबीसी को फ़ोन कर बताया कि अब तक उन्हें बेटे से कोई संपर्क नहीं हो पाया है. शनिवार को वियतनाम का एक और परिवार सामने आया जिसने कहा कि 19 साल की बुई थी न्हुंग का भी शव इसमें हो सकता है.

ब्रिटेन में वियतनाम के राजदूत त्रान न्गोक एन शनिवार की सुबह दूतावास के अधिकारियों के साथ ग्रेस गए थे. वहां उन्होंने एसेक्स पुलिस और लोकल काउंसिल के साथ बैठक की थी. इन मौतों के बारे में वियतनाम के राजदूत ने ब्रिटेन की गृहमंत्री प्रीति पटेल से भी बात की थी.

वियतनाम के दूतावास से जारी बयान में कहा गया है, ''हम इस मामले में चाहते हैं कि सूचनाओं का आदान-प्रदान हो ताकि हमारे नागरिकों की आशंकाएं भी दूर हों. ब्रिटिश प्रशासन के साथ हम इस मामले में सहयोग करना चाहते हैं. अभी तक आधिकारिक रूप से शवों की पहचान को लेकर कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है.''

वियतनाम के प्रधानमंत्री वेन शुआन फुक ने संबंधित अधिकारियों से कहा है कि वो जल्द ही लोगों की पहचान करें और इस बात की भी जांच करें कि अवैध रूप से वियतनाम के लोग कैसे विदेश जा रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)