सूडान : फ़ैक्टरी ब्लास्ट में 23 की मौत, मरने वालों में कई भारतीय

  • 5 दिसंबर 2019
सूडान में फ़ैक्टरी में ब्लास्ट इमेज कॉपीरइट Getty Images

सूडान की राजधानी ख़ार्तूम में एक सेरेमिक फ़ैक्टरी में हुए एलपीजी सिलेंडर ब्लास्ट में कम से कम 23 लोगों की मौत हो गई है. इसमें कम से कम 130 लोगों के घायल होने की ख़बर है.

इस फ़ैक्टरी में बड़ी संख्या में भारतीय काम करते हैं. विदेश मंत्री एस जयशंकर ने इस हादसे की पुष्टि की है, लेकिन अभी ये नहीं पता चल पाया है कि इस ब्लास्ट में कितने भारतीय मारे गए हैं.

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने ट्वीट में कहा है, "हमें खेद है, हमें कुछ भारतीय श्रमिकों के मारे जाने की सूचना मिली है. हम इस घटना की समीक्षा कर रहे हैं."

विदेश मंत्री ने बताया, "सूचनाओं के अनुसार कुल 60 भारतीय श्रमिक कारख़ाने में काम करते थे. उसमें से 53 उस घटना के दौरान कारख़ाने तथा आवासीय क्षेत्र में उपस्थित थे"

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ये जानकारी भी दी है कि घायल श्रमिकों को 'अल-अमल अस्पताल, ओमदुरमन टीचिंग अस्पताल और इब्राहिम मलिक अस्पताल में भर्ती कराया गया है.'

विदेश मंत्री के मुताबिक भारतीय दूतावास के अधिकारी कारख़ाने के प्रबंधन से लगातार संपर्क बनाए हुए हैं. वो 'सूडान के उच्चाधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं ताकि मृतकों की सही पहचान यथाशीघ्र हो सके.'

उन्होंने ये भी बताया कि भारतीय राजदूत ने अस्पताल में घायल श्रमिकों से मुलाकात की और उन्हें हर संभव सहायता देने का आश्वासन दिया है.

इसके पहले ख़ार्तूम स्थित भारतीय दूतावास ने वेबसाइट पर हादसे को लेकर जानकारी दी थी. दूतावास के मुताबिक़ लापता लोगों में वे लोग भी हो सकते हैं, जिनकी मौत हो गई है.

दूतावास ने जो सूची जारी की है, उसके मुताबिक़ 16 भारतीय लापता हैं, जबकि सात भारतीय अस्पताल में भर्ती हैं. तीन लोग आईसीयू में रखे गए हैं.

भारतीय दूतावास ने ये भी बताया है कि कंपनी में काम करने वाले भारतीयों में से 34 सुरक्षित हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे