क़ासिम सुलेमानी के मारे जाने के बाद इराक़ में रॉकेट हमला

  • 5 जनवरी 2020
हमला इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption प्रतीकात्मक तस्वीर

ईरान के सैन्य कमांडर जनरल क़ासिम सुलेमानी के जनाज़े के दौरान ईराक़ के बग़दाद में धमाक़े होने की ख़बरें मिल रही हैं.

यहां मौजूद अमरीकी दूतावास के नज़दीक ग्रीन ज़ोन में एक धमाका हुआ है जबकि राजधानी बग़दाद से उत्तर की तरफ बालाड सैन्य अड्डे में भी कई धमाके हुए हैं. बालाड में अमरीकी सैन्य ठिकाना भी है.

अब तक किसी भी समूह या गुट ने इन धमाकों की ज़िम्मेदारी नहीं ली है.

ईरान समर्थित मिलिशिया लड़ाकों ने बीते कुछ सप्ताह में ऐसे हमले किए थे. लेकिन अब अमरीका के हवाई हमले में ईरान के कमांडर क़ासिल सुलेमानी के मारे जाने के बाद इस तनाव में और बढ़ोतरी हुई है.

कताइब हिज़बुल्ला मिलिशिया ने एक बयान जारी किया है जिसमें उसने इराक़ी सेना को रविवार शाम तक अमरीकी बेस से कम से कम एक हज़ार मीटर पीछे हटने को कहा है.

कहां कहां हुए धमाक़े?

इराक़ी पुलिस का कहना है कि जदरिया में मिसाइल के हमले में पांच लोग घायल हुए हैं. इसके अलावा और किसी नुक़सान की ख़बर नहीं है.

ईराक़ी सुरक्षा सूत्रों के अनुसार ग्रीन ज़ोन के सेलिब्रेशन स्क्वायर के नज़दीक एक रॉकेट या मोर्टार से हमला हुआ जबकि शहर के जादरिया इलाके में एक विस्फोट हुआ है.

रॉयटर्स के अनुसार, सेना ने एक बयान में कहा, "सेलिब्रेशन स्क्वेयर, जदरिया इलाक़े, सलाहुद्दीन प्रांत के बलाद एयरबेस को निशाना बनाकर रॉकेट हमले किए गए जिनमें किसी की जान नहीं गई. आगे की जानकारी अभी आना बाक़ी है."

एएफ़पी समाचार एजेंसी के अनुसार बालाड सैन्य अड्डे में दो रॉकेट हमले हुए हैं जिसके बाद हमले के स्रोत का पता लगाने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल किया जा रहा है.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption 2008 की इस तस्वीर में ईराक़ के बालाड सैन्य अड्डे से एक अमरीकी ड्रोन उड़ान भर रहा है. [फ़ाइल फ़ोटो]

ईरान के जनरल की हुई थी मौत

शुक्रवार को बग़दाद एयरपोर्ट के नज़दीक हुए अमरीकी हमले में ईरान के सैन्य कमांडर जनरल क़ासिम सुलेमानी समेत ईरान के समर्थन वाले कताइब हिज़्बुल्लाह गुट के कमांडर अबु महदी अल-मुहांदिस की भी मौत हुई थी.

सुलेमानी ईरान की बहुचर्चित कुद्स फ़ोर्स के प्रमुख थे. यह फ़ोर्स ईरान द्वारा विदेशों में चल रहे सैन्य ऑपरेशनों को अंजाम देने के लिए जानी जाती है.

इमेज कॉपीरइट FARS

ईरान के सैन्य कमांडर जनरल क़ासिम सुलेमानी के जनाज़े में शामिल होने के लिए शनिवार को इराक़ की राजधानी बग़दाद में लोगों की भारी भीड़ सड़कों पर उतर आई.

बग़दाद शहर में एक विशाल शोक सभा के बाद सुलेमानी के शव को ईरान भेजा जाएगा. फिर सुलेमानी के गृह ज़िले केरमान (केंद्रीय ईरान) में जनाज़े की नमाज़ के बाद उनके शव को दफ़्न किया जाएगा.

इस हमले के बाद ईरान ने कहा था कि वो सही समय आने पर और सही जगह पर इसका बदला लेगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार