कोरोना वायरस: जापानी क्रूज से अपने लोगों को लेकर निकले अमरीकी विमान

  • 17 फरवरी 2020
कोरोना

अमरीका के दो विमान कोरोना वायरस के संक्रमण की आशंकाओं के बीच अमरीकी नागरिकों को जापान से लेकर रवाना हो चुके हैं.

जापान की समाचार एजेंसी क्योडो के अनुसार सोमवार सुबह अलग रखे गए क्रूज़ डायमंड प्रिसेंस से निकलकर अमरीकी नागरिक इन विमानों से रवाना हुए.

ये विमान अमरीकी सरकार ने ख़ास तौर पर अपने लोगों को सुरक्षित वापस बुलाने के लिए जापान भेजे थे, जो अब टोक्यो के हैनेडा एयरपोर्ट से उड़ान भर चुके हैं.

चीन में फैले कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण 400 के क़रीब अमरीकी नागरिक तीन फ़रवरी से ही जापान के एक क्रूज़ पर फंसे हुए थे.

बताया जा रहा है कि कम से कम 40 अमरीकी नागरिक कोरोना वायरस से संक्रमित हैं और उनका इलाज जापान में ही किया जाएगा.

जापान के योकोहामा बंदरगाह पर डायमंड प्रिंसेज नाम के इस क्रूज़ में 3,700 के करीब लोगों और क्रू सदस्यों को अलग रखा गया है.

इमेज कॉपीरइट AFP

क्रूज़ में 355 लोग कोरोना से संक्रमित

इस क्रू को उस वक़्त रोककर अलग रखना पड़ा जब इससे हॉन्गकॉन्ग में उतरने वाले एक व्यक्ति को कोरोना से संक्रमित पाया गया.

चीन से बाहर हॉन्गकॉन्ग में ही कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की सबसे ज़्यादा संख्या दर्ज की गई है. जापान के अधिकारियों ने रविवार को बताया कि क्रूज़ में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 70 से बढ़कर 355 हो गई है.

संक्रमित अमरीकी नागरिकों का जापान में ही इलाज होगा.

कुछ अमरीकी लोगों ने क्रूज़ छोड़कर जाने से इनकार कर दिया है. उन्होंने कहा कि वो 19 फ़रवरी तक इंतज़ार करना पसंद करेंगे. जापान के प्रशासन ने इस क्रूज़ को 19 फ़रवरी तक अलग रखने का फ़ैसला किया है.

क्रूज़ में सवार अमरीकी वकील मैट स्मिथ न कहा कि वो उन लोगों के साथ एक विमान या बस में यात्रा नहीं करना चाहते, जिनमें संक्रमण की आशंका है.

ये भी पढ़ें: चीन के हूबे में अब लोगों के घर से बाहर निकलने पर रोक

मदद के लिए आईफ़ोन बांटे गए

अमरीका के अलावा इसराइल, हॉन्ग कॉन्ग और कनाडा के विमान भी अपने नागरिकों को वापस लेकर जाएंगे. वहीं, नेपाल का एक विमान चीन के वुहान शहर से अपने 175 नागरिकों को लेकर काठमांडू पहुंच गया है.

इस बीच जापान की सरकार ने क्रूज़ में सवार यात्रियों के लिए 2,000 आईफ़ोन बंटवाए हैं. क्रूज़ में हर केबिन के लिए एक आईफ़ोन दिया गया है ताकि लोग जापान के स्वास्थ्य मंत्रालय के बनाए एक ऐप का इस्तेमाल करके डॉक्टरों और मनोवैज्ञानिकों से संपर्क कर सकें. हालांकि जापान के बाहर रजिस्ट्रेशन वाले फ़ोन इस ऐप को एक्सेस नहीं कर पा रहे हैं.

चीन में अब तक 68,500 से ज़्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. चीन के बाहर लगभग 30 देशों में कोरोना संक्रमण के 500 से ज़्यादा मामले दर्ज किए गए हैं.

फ़्रांस, हॉन्ग कॉन्ग, फ़िलीपींस और जापान में भी कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं.

ये भी पढ़ें: कोरोना वायरस ने भारत के इस गांव को पूरी तरह ठप किया

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार