संतरों से लड़े जाने वाला एक 'युद्ध': तस्वीरों में

  • 20 फरवरी 2020
Gathering in the main square इमेज कॉपीरइट Andrea Capello

इटली के उत्तर-पश्चिम में स्थित इवरेया शहर में हर साल सैकड़ों लोग श्रोव मंगलवार का जश्न मनाने के लिए एकत्र होते हैं.

इस मध्यकालीन शहर के एक बड़े चौराहे पर जश्न का आयोजन किया जाता है और रस्म के तौर पर लोग एक दूसरे पर संतरे फेंकते हैं.

इवरेया में जहाँ इस आयोजन की तैयारियाँ ज़ोर शोर से चल रही हैं, वहीं पेशेवर फ़ोटोग्राफ़र एंड्रिया कापैलो ने बीबीसी से इस महोत्सव की कुछ तस्वीरें साझा की हैं जो उन्होंने पिछले साल खींची थीं.

वे बताती हैं कि 'शहर में इस महोत्सव के दौरान ऐसा लगता है, मानो संतरों की मदद से लोग आपस में कोई युद्ध लड़ रहे हैं.'

इस त्योहार की बहुत पुरानी मान्यताए हैं जो भारतीय पर्व होली से काफ़ी मिलती-जुलती हैं.

दरअसल श्रोव मंगलवार, एश बुधवार से एक दिन पहले का मंगलवार होता है जो अमूमन ईस्टर से 40 दिन पहले (सात सप्ताह पहले) आता है.

इवरेया में इसके पीछे की कहानी ये है कि एक राजा था जो बहुत ही निर्मम था, कठोर था और उसने अपनी प्रजा के लिए बहुत ही कड़े नियम क़ानून बना दिये थे. लोग उस राजा से नाराज़ थे, पर वे अपनी नाराज़गी ज़ाहिर करने का जोख़िम नहीं उठा सकते थे. पर इस राजा का अंत तब हुआ, जब सुहागरात के दिन रानी वॉयलेटा ने उसकी गर्दन चीर डाली.

शहर के लोग बताते हैं कि इस घटना के बाद गुस्साए लोगों ने राजा के क़िले को आग लगा दी थी और इस दौरान राजा के समर्थकों और उनके मुख़ालिफ़ों के बीच जो संघर्ष हुआ, श्रोव मंगलवार का जश्न उसी को दर्शाता है.

The band of Pipers and Drummers इमेज कॉपीरइट Andrea Capello
Image caption शहर के बड़े चौराहे पर जो भीड़ जमा होती है वो ख़ूब गाजे-बाजे के साथ आती है
Violetta, the main character of the carnival, इमेज कॉपीरइट Andrea Capello
Image caption हर साल एक शादीशुदा महिला रानी वॉयलेटा का किरदार निभाती है
The battle rages इमेज कॉपीरइट Andrea Capello
Image caption संतरों से खेले जाने वाला कथित युद्ध तीन दिन तक चलता है जो श्रोव मंगलवार के दिन जाकर थमता है
Oranges are thrown इमेज कॉपीरइट Andrea Capello
Image caption जो लोग राजा की फ़ौज की भूमिका में होते हैं वे एक गाड़ी के ऊपर से संतरे फेंकते हैं
A member of the orange thrower team of Tuchini del Borghetto इमेज कॉपीरइट ANDREA CAPELLO
Image caption और नीचे खड़ी जनता उन पर हमला करती है. कई बार तो लोगों में बहुत ज़्यादा जोश देखने को मिलता है
Throwing oranges from a cart इमेज कॉपीरइट Andrea Capello
Image caption दोनों तरफ से संतरे फेंके जा रहे होते हैं, इस वजह से पूरा इलाक़ा मलबे से भर जाता है
Carnival is a tradition, it's the history of a community and everything that holds this city together इमेज कॉपीरइट Andrea Capello
Image caption जब ये प्रतीकात्मक युद्ध थमता है तो लोग अपने-अपने हिस्से की कहानियाँ सुनाते हैं और ख़ुश होते हैं
Bruised shoulder इमेज कॉपीरइट Andrea Capello
Image caption काफ़ी लोगों को इस दौरान चोटें भी लगती हैं
A man with an injured nose इमेज कॉपीरइट Andrea Capello
Image caption कुछ लोगों का ख़ून भी बहता है
Over 700 tons of oranges are used during the battle इमेज कॉपीरइट Andrea Capello
Image caption स्थानीय प्रशासन के अनुसार इस आयोजन में क़रीब 700 टन संतरे इस्तेमाल हो जाते हैं
After the battle, everything that is collected इमेज कॉपीरइट Andrea Capello
Image caption और अंत में इस सारे मलबे को इकट्ठा कर शहर के बाहर स्थित कूड़ेदान में फेंक दिया जाता है

सभी तस्वीरें एंड्रिया कापैलो के सौजन्य से.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार