इमरान ख़ान बोले- हमारे अल्पसंख्यक बराबर के नागरिक

  • 26 फरवरी 2020
इमरान ख़ान इमेज कॉपीरइट Getty Images

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने दिल्ली में नागरिकता संशोधन क़ानून को लेकर जारी हिंसा पर मोदी सरकार को निशाने पर लिया है.

इमरान ख़ान ने ट्वीट कर कहा, ''हम देख रहे हैं कि नाज़ी-प्रेरित आरएसएस विचारधारा परमाणु शक्ति संपन्न और एक अरब से ज़्यादा आबादी वाले भारत की सत्ता को अपने हाथ में ले रहा है. जब भी नफ़रत आधारित नस्ली विचारधारा के हाथ में कोई देश आता है तो क़त्लेआम की तरफ़ बढ़ता है.''

इमरान ने अपने दूसरे ट्वीट में कहा, ''मैंने पिछले साल संयुक्त राष्ट्र की आम सभा में अपने संबोधन में इसकी आशंका पहले ही जता दी थी. एक बार जब ख़ून-ख़राबे का जिन्न बोतल से बाहर आ जाता है तो बहुत ही बुरा होता है. इसकी शुरुआत भारत ने कश्मीर से की थी और अब 20 करोड़ मुसलमानों को पूरे भारत में निशाने पर लिया जा रहा है. विश्व समुदाय को तत्काल कार्रवाई करनी चाहिए.''

इमरान ख़ान ने अपने तीसरे ट्वीट में कहा है, ''मैं अपने लोगों को चेतावनी दे रहा हूं कि पाकिस्तान में किसी ने ग़ैर-मुसलमानों को निशाने पर लिया और उनके पूजास्थलों को नुक़सान पहुंचाया तो सख़्ती से निपटा जाएगा. हमारे अल्पसंख्यक पाकिस्तान में बराबरी का हक़ रखते हैं.''

दिल्ली में सोमवार को शुरू हुई हिंसा में अब तक 21 लोगों की मौत हो चुकी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे