कोरोना वायरस: इटली में बंद हो सकते हैं सारे स्कूल-कॉलेज

इटली में कोरोना वायरस का असर

इमेज स्रोत, Emanuele Cremaschi/Getty Images

कोरोना वायरस का असर धीरे-धीरे दुनिया भर के देशों में होने लगा है.

चीन से शुरू हुआ ये वायरस अब यूरोप और एशिया के अलावा दक्षिण अमरीका के कई देशों में पहुंच चुका है.

अब तक तीन हज़ार से ज़्यादा लोग मारे जा चुके हैं और क़रीब 70 देशों में ये वायरस फैल चुका है. सिर्फ़ चीन में अब तक 2981 लोगों की मौत हो चुकी है.

चीन के बाहर सबसे ज़्यादा असर दक्षिण कोरिया और ईरान में देखा जा रहा है. ईरान में अब तक 92 लोग मारे जा चुके हैं.

इटली पूरे देश में स्कूल-कॉलेजों को मार्च के मध्य तक बंद करने पर विचार कर रहा है.

इमेज स्रोत, Ulet Ifansasti/Getty Images

इमेज कैप्शन,

इंडोनेशिया में भी कोरोना के दो मामलों की पुष्टि हुई है

कोरोना वायरस के शिकार

बुधवार को सरकार ने इस बारे में एक बैठक की और इस पर बहुत चर्चा हुई कि क्या सारे स्कूल-कॉलेजों को बंद कर दिया जाए.

बैठक के बाद इटली की शिक्षा मंत्री लूसिया अज़ोलिना ने कहा, "इटली की समाचार एजेंसी अनसा और दूसरे स्थानीय चैनलों में स्कूल-कॉलेज बंद करने के बारे में जो ख़बर चल रही है अभी उस पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है लेकिन अगले कुछ ही घंटों में इस पर फ़ैसला ले लिया जाएगा."

ब्रिटेन में अभी तक 85 लोगों के कोरोना वायरस के शिकार होने की पुष्टि हो गई है.

ब्रिटेन के चीफ़ मेडिकल ऑफ़िसर प्रोफ़ेसर क्रिस विट्टी ने कहा है कि अभी 32 और नए मामले सामने आए हैं.

ब्रिटेन में अस्पतालों को सलाह दी गई है कि संक्रमण के ख़तरे को कम करने के लिए डॉक्टर ज़्यादा से ज़्यादा वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग का इस्तेमाल करें.

इमेज स्रोत, AFP/Getty Images

इमेज कैप्शन,

सैंड आर्टिस्ट सुदर्शन पटनायक अपनी कला के ज़रिये पुरी के सागर तट पर कोरोना के ख़िलाफ़ जागरूकता संदेश देते हुए

भारत में अब तक 29 मामले

भारत में भी अब तक 29 मामलों की पुष्टि हो गई है. पेटीएम कंपनी ने कहा है कि गुरुग्राम स्थित उसके एक कर्मचारी में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है.

इससे पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बुधवार को 28 मामलों की जानकारी देते हुए कहा कि दिल्ली के एक, आगरा के छह, तेलंगाना के एक, केरल के तीन और इटली के 16 नागरिकों और उनके ड्राइवर में इसकी पुष्टि हुई है.

हर्षवर्धन ने बुधवार को दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन से मुलाक़ात की और कोरोना वायरस के फैलने और उससे निपटने के लिए की जा रही तैयारियों का जायज़ा लिया.

भारत के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और कई केंद्रीय मंत्रियों ने घोषणा की है कि वो इस बार कोरोना वायरस को देखते हुए होली के अवसर पर कोई बड़ा कार्यक्रम न तो आयोजित करेंगे और न ही उसमें जाएंगे.

इमेज स्रोत, EPA/WAEL HAMZEH

इमेज कैप्शन,

लेबनान में कोरोना वायरस के मुद्दे पर सरकार विरोध प्रदर्शन

वैश्विक महामारी

इस बीच विश्व बैंक ने कोरोना वायरस से प्रभावित विकासशील देशों को इससे लड़ने के लिए 12 अरब डॉलर के आर्थिक मदद की घोषणा की है.

फ़्रांस ने भी राजधानी पेरिस के आस-पास के स्कूलों को बंद कर दिया है. कोरोना वायरस के प्रभावित इलाक़ों में स्थित 120 स्कूलों को बंद कर दिया गया है.

फ़्रांस में कोरोना वायरस से अब तक दो लोगों की मौत हो गई है. चिली और अर्जेन्टीना में भी कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया है.

जर्मनी के स्वास्थ्य मंत्री ने इसे वैश्विक महामारी क़रार दिया है.

जर्मन सांसदों से बात करते हुए स्वास्थ्य मंत्री जेन्स स्पैन ने कहा, "हालात बहुत तेज़ी से बदल रहे हैं. एक बात स्पष्ट है कि अभी भी ये बीमारी अपने चरम पर नहीं पहुंची है.. हालांकि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अभी तक इसे वैश्विक महामारी नहीं कहा है."

इमेज स्रोत, Reuters

फ़ेक न्यूज़ फैलाया जा रहा है: पुतिन

रूस में कोरोना वायरस के कितने मामले अभी तक आए हैं इसको लेकर बहस छिड़ गई है.

सोशल मीडिया पर कहा जा रहा है कि रूस अपने यहां कोरोना वायरस के मामलों को छुपाने की कोशिश कर रहा है. सोशल मीडिया में दावा किया जा रहा है कि केवल मॉस्को में 20 हज़ार लोग इसके शिकार हुए हैं जबकि रूस ने आधिकारिक तौर पर केवल छह मामलों की पुष्टि की है.

इसके जवाब में राष्ट्रपति पुतिन ने कहा है कि रूस को बदनाम करने के लिए फ़ेक न्यूज़ फैलाया जा रहा है.

पुतिन का कहना था, ''विदेश से फ़ेक न्यूज़ फैलाया जा रहा है. और इस दुष्प्रचार का उद्देश्य लोगों में ख़ौफ़ का माहौल पैदा करना है.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)