कोरोना वायरस: इटली में 200 की मौत, दुनिया भर में एक लाख से ज़्यादा मामले

कोरोना वायरस

इमेज स्रोत, EPA

इटली में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों का आंकड़ा 197 से बढ़कर 200 हो गया है.

अधिकारियों ने बताया कि पिछले 24 घंटों के भीतर इटली में 49 लोगों की मौत हुई है.

इसी के साथ वहां कोरोना संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 4,600 हो गई है.

कोरोना वायरस से चीन के बाद सबसे ज़्यादा मौतें इटली में हुई हैं.

चीन में अब तक वायरस की चपेट में आकर 3,000 से ज़्यादा लोगों ने जान गंवाई है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक़ कोरोना की वजह से दुनिया भर में अब तक 101,000 से ज़्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं.

इमेज स्रोत, Jesus Merida / Echoes Wire/Barcroft Media/Getty

फ्रांस और स्पेन का संकट

कोरोना वायरस से संक्रमण की वजह से फ्रांस और स्पेन में मरने वालों की संख्या बढ़ गई है.

फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को दो और लोगों के मौत की पुष्टि की. इसके साथ ही फ्रांस में कोरोना की वजह से मरने वालों की संख्या बढ़कर 11 हो गई है.

फ्रांस की सरकार ने बताया कि कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 716 हो गई जबकि एक दिन पहले ये 103 कम थी.

स्पेन में भी शनिवार को दो लोगों के मौत की ख़बर है. वहां अब तक कोरोना की वजह से 10 लोग जान गंवा चुके हैं.

इसके अलावा जापान में डायमंड प्रिसेंज जहाज के एक पूर्व यात्री की कोरोना से संक्रमण होने के बाद मौत हो गई. उन्हें निगरानी में रखा गया था.

इमेज स्रोत, Getty Images

ऑस्ट्रेलिया में टॉयलेट पेपर का मुद्दा

छोड़कर पॉडकास्ट आगे बढ़ें
पॉडकास्ट
बात सरहद पार

दो देश,दो शख़्सियतें और ढेर सारी बातें. आज़ादी और बँटवारे के 75 साल. सीमा पार संवाद.

बात सरहद पार

समाप्त

फ्रांस की सरकार ने बताया कि कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 716 हो गई जबकि एक दिन पहले ये 103 कम थी.

स्पेन में भी शनिवार को दो लोगों के मौत की ख़बर है. वहां अब तक कोरोना की वजह से 10 लोग जान गंवा चुके हैं.

इसके अलावा जापान में डायमंड प्रिसेंज जहाज के एक पूर्व यात्री की कोरोना से संक्रमण होने के बाद मौत हो गई. उन्हें निगरानी में रखा गया था.

जापान के पब्लिक ब्रॉडकास्टर एनएचके ने बताया कि डायमंड प्रिसेंज जहाज के सात यात्रियों की अब तक मौत हो चुकी है.

चीन के वुहान से फैलना शुरू हुआ कोरोना वायरस इस समय पूरी दुनिया के कई देशों में दस्तक दे चुका है.

इस वायरस के डर के कारण ऑस्ट्रेलिया में टॉयलेट पेपर ख़त्म होने की अफ़वाहें अभी भी जारी हैं.

ऑस्ट्रेलिया में #ToiletPaperEmergency और #ToiletPaperApocalypse ट्रेंड कर रहे हैं और टॉयलेट पेपर की मांग कम नहीं हो रही है.

इसी सप्ताह एक ऑस्ट्रेलियाई अख़बार ने अपने अख़बार में आठ पन्नों को खाली छोड़ा था जिसका टॉयलेट पेपर के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता था.

हालांकि, ऑस्ट्रेलियाई प्रशासन साफ़ कर चुका है कि देश में टॉयलेट पेपर की कोई कमी नहीं है.

इमेज स्रोत, Reuters

इमेज कैप्शन,

टॉयलेट पेपर के बॉक्स पर बैठी हुईं हैडी जेनेत्ज़की

'फ़ीयर ऑफ़ मिसिंग आउट' सिंड्रोम

इस अफ़वाह के कारण पिछले हफ़्ते एक पुलिसकर्मी को एक आदमी पर बल प्रयोग करना पड़ा था क्योंकि वो शख़्स टॉयलेट पेपर को लेकर स्टोर के कर्मचारी से लड़ रहा था.

वहीं सिडनी के एक वीडियो में तीन महिलाएं टॉयलेट पेपर के बड़े पैक के लिए लड़ रही हैं.

इसके अलावा कुछ ऐसे लोग भी हैं जिन्होंने टॉयलेट पेपर का स्टॉक जमा कर लिया है.

क्रिस जेनेत्ज़की (35) और हैडी जेनेत्ज़की (33) जोड़े का कहना है कि उसने ग़लती से पिछले महीने 3,260 डॉलर के 2,306 टॉयलेट रोल ख़रीद लिए थे.

मनोवैज्ञानिक और उपभोक्ता विशेषज्ञों का कहना है कि टॉयलेट पेपर ख़रीदने की या मांग 'फ़ीयर ऑफ़ मिसिंग आउट' सिंड्रोम के कारण है, जिसमें आधुनिक जीवनशैली की सुविधाओं के आभाव का डर रहता है.

इमेज स्रोत, EPA

इमेज कैप्शन,

तेहरान में यात्रियों की प्रतीक्षा करता टैक्सी ड्राइवर

ईरान में एक और सांसद की मौत

Covid-19 वायरस के कारण ईरान में एक और सांसद की मौत हो गई है.

सरकारी समाचार एजेंसी इरना के मुताबिक़, 55 वर्षीय फ़ातिमा रहबर रूढ़िवादी पार्टी से थीं जो हाल ही में तेहरान से संसद के लिए चुनी गई थीं.

पिछले महीने ईरान के उप-मंत्री इराज हरिरची और एक सांसद इस वायरस के शिकार पाए गए थे. बाद में सांसद की मौत हो गई थी.

उनके अलावा देश के सर्वोच्च नेता अली ख़ामेनेई के वरिष्ठ सलाहकार की मौत हो चुकी है.

ईरान ने अब तक अपने यहां कोरोना वायरस के कारण 5,823 लोगों के संक्रमित होने और 145 लोगों के मौत होने की पुष्टि कर दी है.

हालांकि, इन आंकड़ों को कम माना जा रहा है.

इस पर क़ाबू पाने के लिए सरकार ने देश में स्कूलों को बंद कर दिया है और सांस्कृतिक-खेल कार्यक्रमों को रद्द कर दिया गया है.

इमेज स्रोत, AFP

क्रूज़ शिप पर 21 नए मामले

अमरीका के कैलिफ़ोर्निया में सेन फ़्रांसिस्को के तट पर रोके गए ग्रैंड प्रिंसेज़ क्रूज़ शिप नामक जहाज़ पर कोरोना वायरस से 21 नए लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है.

यह जहाज़ डायमंड प्रिंसेज़ नामक जहाज़ की कंपनी द्वारा ही संचालित होता है.

डायमंड प्रिंसेज़ पर कोरोना वायरस का पता चला था जिसको जापान के तट पर रोका गया था.

अमरीकी राष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा है कि ग्रैंड प्रिंसेज़ जहाज़ को एक ग़ैर-व्यावसायिक बंदरगाह पर भेजा जाएगा जहां पर सभी 3,533 यात्रियों और क्रू की जांच की जाएगी.

इमेज स्रोत, AFP

दक्षिण कोरिया में फ़्लैट सील किए गए

दक्षिण कोरिया के डीगू शहर में फ़्लैट की दो इमारतों को निगरानी में रखा गया है क्योंकि इसमें रहने वाले दर्जनों लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं.

दक्षिण कोरिया में 274 नए संक्रमित लोगों के बारे में पता चला है जिसके कारण पूरे देश में ऐसे लोगों की संख्या 7,000 हो गई है.

स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया है कि पूरे देश में अब तक 44 मरीज़ों की मौत हो चुकी है और 36 मरीज़ों की हालत गंभीर है.

वीडियो कैप्शन,

कोरोना वायरस: क्या करें और क्या न करें?

कहां-कहां आए पहले मामले

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक़, Covid-19 से संक्रमित मामलों की पहचान 90 देशों में हो चुकी है.

दी वेटिकन, सर्बिया, स्लोवाकिया, पेरू, केमरून और टोगो में पहले मामलों के बारे में पता चला है. केमरून मध्य अफ़्रीका का पहला देश है, जहां इसके बारे में पता चला है.

वहीं, नीदरलैंड्स में इस वायरस के कारण शुक्रवार को पहली मौत हुई. इटली में मौतों का आंकड़ा 197 पहुंच चुका है और 4,600 से अधिक लोग इससे संक्रमित पाए गए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)