जॉर्ज फ्लायड की मौत के बाद जो 10 चीज़ें बदल गईं

जॉर्ज फ्लायड

इमेज स्रोत, Getty Images

जॉर्ज फ्लायड की मौत को तीन सप्ताह बीत गए हैं. उनकी मौत के बाद दुनिया भर में विरोध प्रदर्शन देखने को मिला है.

फ्लायड की मौत ने समाज में नस्लभेद और भेदभाव के मुद्दे को एक बार फिर से चर्चा में ला दिया है.

उनके परिवार वालों ने भी कहा है कि वे लोग उनकी मौत को यूं ही नहीं जाने देंगे.

बीबीसी रेडियो 1 न्यूज़बीट उन 10 चीज़ों के बारे में बता रहा है जो जॉर्ज फ्लायड की मौत के बाद बदल गई हैं.

1. दुनिया भर में श्रदांजलि एवं विरोध प्रदर्शन

दुनिया भर में लोगों ने ब्लैक लाइव्स मैटर के संदेश के साथ विरोध प्रदर्शन किया है. पहले भी पुलिस द्वारा काले लोगों की हत्या पर विरोध प्रदर्शन होते थे लेकिन इस बार का विरोध प्रदर्शन बेहद अलग दिख रहा है.

अमरीका के सभी 50 प्रांतों में विरोध प्रदर्शन देखने को मिला है, जिसमें इलिनॉयस का एक छोटा सा गांव अन्ना भी शामिल है, जिसे स्थानीय तौर पर सबसे नस्लभेदी जगह माना जाता है.

इमेज स्रोत, Getty Images

दुनिया भर के 50 देशों में विरोध प्रदर्शन देखने को मिला है. सीरिया के इदलिब में बमबारी मे तबाह इमारत की दीवार पर भी जॉर्ज फ्लायड का पोट्रेट देखने को मिला हैं.

2. गुलामी से जुड़ी प्रतिमाएं गिराई गईं

ब्रिटेन और अमरीका में गुलामी प्रथा से जुड़े लोगों की प्रतिमाओं को प्रदर्शनकारियों ने गिरा दिया है.

इमेज स्रोत, Getty Images

ब्रिटेन के ब्रिस्टल शहर में 17वीं शताब्दी में गुलामों की खरीद बिक्री करने वाले कारोबारी एडवर्ड कोलस्टोन की प्रतिमा लगी थी. इसे गिरा कर समुद्र में फेंक दिया गया. हालांकि प्रतिमा को निकाला गया है और अब उसे संग्राहलय में रखा जाएगा.

अमरीका में भी क्रिस्टोफर कोलंबस की प्रतिमा को गिराया गया. हालांकि कुछ लोगों का तर्क है कि प्रतिमा गिराना इतिहास को मिटाने जैसा है, वहीं दूसरे पक्ष का कहना है कि इन प्रतिमाओं की जगह संग्राहलय में है, ना कि सार्वजनिक जगहों पर.

3. बड़ी बड़ी कंपनियां कर रही हैं समर्थन

दुनिया की बड़ी बड़ी कंपनियों ने ब्लैक लाइव्स मैटर आंदोलन को अपना समर्थन दिया है. हालांकि ऐसा करने पर पेरिस की लॉरियल जैसी ब्रैंड को आलोचना का भी सामना करना पड़ा है.

इमेज स्रोत, Getty Images

जब लॉरियल ने इस आंदोलन को समर्थन देने की घोषणा की तो ट्रांसजेंडर मॉडल मुनरो ब्रजडॉर्फ़ ने कहा कि इस ब्रैंड ने उन्हें भेड़ियों के सामने फेंक दिया था.

लॉरियल ने मुनरो को गोरे लोगों की नस्लीय हिंसा संबंधी पोस्ट करने पर 2017 में हटा दिया था. उस वक्त कंपनी की ओर से उनकी प्रतिक्रिया को कंपनी के मूल्यों से अलग बताया था हालांकि कंपनी की नई बॉस डेल्पाइन विगुइर ने जिस तरह से इस मामले को हैंडल किया गया था, उसके लिए माफी मांगी है.

4. पुलिस अधिकारियों पर आरोप

इमेज स्रोत, Reuters

जॉर्ज फ्लायड की हत्या का आरोप डेरेक चुविन पर लगा है जबकि तीन अन्य पूर्व पुलिस अधिकारी पर हत्या में शामिल होने का आरोप लगाया गया है.

अब तक कोले लोगों की पुलिस हिरासत में हुई मौत के हाई प्रोफाइल मामलों में किसी पुलिस अधिकारी को दोषी नहीं ठहराया गया है. मिनिसोटा के एटार्नी जेनरल कीथ इलिसन के मुताबिक जॉर्ज फ्लायड के मामले में भी पुलिस अधिकारियों को दोषी साबित करना आसान नहीं होगा.

मिनिसोटा में अब तक केवल एक पुलिस अधिकारी को एक आम नागरिक की हत्या के मामले में दोषी ठहराया गया है.

5. पुलिस विभाग में बदलाव

मेनियापोलिस सिटी काउंसिल को इस घटना के बाद पुलिस विभाग में बदलाव लाना पड़ा है. काउंसिल ने इसके बाद चोकहोल्ड और गर्दन से काबू पाने की कोशिश पर पाबंदी लगा दी है.

लुइसविले में बिना घोषणा के पुलिस रेड पर रोक लगा दी गई है. इस शहर में ब्रेओना टेलर की मौत हुई थी. टेलर अपने घर में सो रही थीं तब पुलिस अधिकारियों ने उनके अपार्टमेंट में प्रवेश किया था. उन्हें आठ गोलियां मारी गई थीं.

विरोध प्रदर्शन करने वाले लोगों की एक बड़ी मांग पुलिस को मिलने वाले पैसों से भी जुड़ी है. इन लोगों का तर्क है कि पुलिस का काफी पैसों का भुगतान किया जाता है और इसमें कमी होनी चाहिए.

न्यूयार्क सिटी के मेयर बिल डे बलासियो ने कहा है कि वह शहर के पुलिस विभाग के पैसों को सामाजिक सेवा के कामों में लगाएंगे.

6. चैरिटी के लिए दान

इमेज स्रोत, Getty Images

जॉर्ज फ्लायड मेमोरियल फंड में अब तक 15 लाख डॉलर रकम के अपने लक्ष्य को पूरा कर चुका है. यह फंड गोफंडमी पेज पर सबसे ज़्यादा रकम पाने वाला फंड बना हुआ है.

इस दौरान नस्लभेद से जुड़े दूसरे मामलों को भी लाखों डॉलर का चंदा मिल रहा है. मिनिसोटा फ्रीडम फंड का उदाहरण सामने है. यह प्रदर्शनकारियों की जमानत के लिए शुरू किया छोटा प्रोजेक्ट था. लेकिन इस फंड को काफी अनुदान मिला है.

7. अपने अनुभव शेयर कर रहे हैं लोग

इमेज स्रोत, AFP

इस घटना के बाद अपने साथ हुए नस्लभेद या भेदभाव को लेकर लोग मुखर हुए हैं. जॉर्ज फ्लायड की घटना के बाद रेडियो 1 की क्लारा एम्पो ने अपने ऊपर इसके असर और मानसिक स्वास्थ्य के बारे में बताया.

उन्होंने बताया कि काले लोगों में यह भाव फिर से भर गया है कि लोग हमारी संस्कृति को चाहते हैं लेकिन हमें नहीं चाहते. उन्होंने कहा कि इसे दूसरे शब्दों में कहें तो आप हमारा टैलेंट चाहते हैं, लेकिन हमें नहीं चाहते.

सिंगर लियोना लुइस ने इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए बताया कि किस तरह से उन्हें और उनके पिता को एक स्टोर पर नस्लभेद का शिकार होना पड़ा था. लियोना के मुताबिक स्टोर पर उन्हें कहा गया था कि आपको सामान छुने की इजाजत नहीं है, फिर दुकान में खड़ी एक महिला ने माफी मांगने की कोशिश की थी, तब लुइस ने उन्हें रेसिस्ट कहा था.

8. काला मंगलवार

दो जून यानी मंगलवार को ब्लैकआउट ट्यूजडे के विरोध प्रदर्शन में सोशल मीडिया पर काली पट्टियां नजर आईं. यह रोजाना की गतिविधियों से मुक्त होकर ब्लैक लाइव्स मैटर आंदोलन के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए समय निकालने के लिए किया गया था. हालांकि इसकी बाद में आलोचना भी हुई, इसके चलते लोगों को जरूरी जानकारियां नहीं मिल पाईं.

9. व्हाइट हाउस जाने वाली सड़क का नाम

वाशिंगटन डीसी में अमरीकी राष्ट्रपति के निवास व्हाइट हाउस जाने वाली एक सड़क का नाम ब्लैक लाइव्स मैटर प्लाज़ा रख दिया गया है.

इमेज स्रोत, Getty Images

सड़क नाम मेयर ने रखा है क्योंकि डोनाल्ड ट्रंप जिस तरह से प्रदर्शनकारियों के साथ पेश आए उससे मेयर बहुत खुश नहीं थीं. वहीं न्यूयार्क के मेयर ने कहा है कि हर शहर में एक सड़क का नाम ब्लैक लाइव्स मैटर होना चाहिए.

10. ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्मों ने कार्यक्रम हटाए

नस्लभेद को लेकर असंवेदनशील और सही नहीं दिखने वाले किरदारों वाले टीवी शो को ऑनलाइन स्ट्रीमिंग सर्विसेज हटा रहे हैं. हालांकि कई लोगों का तर्क है कि पहले के दौर की कॉमेडी को आज के समय से नहीं आंका जाना चाहिए.

आई प्लेयर और नेट फिलिक्स ने लिटिन ब्रिटेन और कम फ्लाई विद मी को हटा लिया है. नेट फिलिक्स ने द माइटी बूश और द लीग ऑफ जेंटलमैन को भी हटा लिया है.

कीथ लेमन ने हाल भी में बो सेलेक्टा में अपने काले किरदारों के लिए माफी मांगी है और ब्लैक लाइव्स मैटर को अपना समर्थन सौंपा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)