पौने सात रुपए लीटर बिक रहा है पेट्रोल !

Image caption कोलंबिया और वेनेजुएला की पैट्रोल कीमतों में दिन रात का फर्क है

पेट्रोल की बढ़ती कीमतों की खबरों के बीच अगर कोई आपको बताए की एक जगह ऐसी भी है जहां एक लीटर पेट्रोल सिर्फ 6.75 रुपए में मिल रहा है तो शायद आप ये यकीन ना कर पाएँ. लेकिन ये सच है.

पिछले दिनों वेनेजुएला को विश्व का सबसे सस्ता पेट्रोल बेचने वाला देश बताया गया है.

इस देश में पेट्रोल पंप पर सस्ता तेल मिलने की परंपरा रही है, क्योंकि यहाँ विश्व के सबसे बडे तेल भंडार हैं. हांलाकि अब ये सस्ता तेल तस्करों को भी ललचा रहा है.

समाजवादी राष्ट्रपति ह्यूगो चावेज देश में पेट्रोल के दाम बढ़ने और वोटरों के गुस्से को लेकर सजग हैं. साथ ही वो इस बात को लेकर भी नाखुश हैं कि तेल पर दी जा रही छूट उनकी सरकार पर भारी पड रही है.

वेनेजुएला के तेल भंडार माने जाने वाला शहर मैराकाईबो, कोलंबिया सीमा से 60 मील दूर है. लेकिन कोलंबिया और वेनेजुएला की पेट्रोल कीमतों में दिन रात का फर्क है. कोलंबिया में पेट्रोल दस गुना तक मंहगा है.

एक स्थानीय टैक्सी चालक कहते हैं, “यहां पेट्रोल सस्ता है. मानो ये यहाँ बिलकुल मुफ़्त दे रहे हों. कोलंबिया में पेट्रोल बहुत मंहगा है, यहां से लगभग 10 गुना तक महंगा. मैं कोलंबिया जाता रहता हूं लेकिन मेरी कोशिश रहती हैं कि मैं कभी भी वहां तेल ना खरीदूं.”

सिर्फ स्थानीय टैक्सी वाले ही नहीं हैं जो वेनेजुएला में पेट्रोल भरवाने की कोशिश करते हैं. इस देश में मिलने वाला सस्ता पेट्रोल तस्करों को भी ललचाता है.

वेनेजुएला की सरकार का अनुमान है कि सालाना एक लाख बैरल तेल की तस्करी होती है, जिससे सरकार को करोड़ों डॉलर के राजस्व का नुकसान होता है.

तेल खर्च सीमा 40 लीटर

सरकार का उपाय है कि कोलंबिया सीमा के नज़दीक के इलाकों में तेल की खरीद की सीमा तय की जाए, जिसके तहत हर गाड़ी पर एक चिप लगी होगी.

इस चिप के आधार पर ही पेट्रोल पंप पर लोग पेट्रोल डलवा सकते हैं. एक कार में 40 लीटर तेल डालने की सीमा निर्धारित की गई है.

मैराकाईबो वेनेजुएला के तेल उद्योग की राजधानी है और यहां कहावत है कि अगर आप कहीं भी जमीन को खोदेंगे तो आपको तेल मिलेगा.

ये बड़ी विडंबना है कि इस इलाके में भी तेल खरीदने की सीमा निर्धारित की जाएगी. इस बात में कोई आश्चर्य नहीं हैं कि यहां के स्थानीय निवासियों ने इस योजना को नकार दिया है.

विपक्षी सांसद एलिको फर्मी कहते हैं, “ये बड़ा ही बेतुका लगता हैं कि राज्य के जिस इलाके से पेट्रोल निकलता है वहां के लोगों को अपने पेट्रोल खर्च को सीमित करना पड़ रहा है जबकि वेनेजुएला की उदारता की वजह से क्यूबा और बोलिविया के लोगों के पास सस्ता पेट्रोल है.”

सांसद एलिको फर्मी राष्ट्रपति ह्यूगो चावेज के उस फैसले की ओर इशारा कर रहे थे जिसके तहत वेनेजुएला ने इस क्षेत्र के कई देशों को रियायती दरों पर तेल उपलब्ध करवाया है.

अभी तक मैराकाईबो के दर्जनों पेट्रोल पंपों में से सात पंपों ने चिप के अधार पर पेट्रोल बेचना शुरु किया है. पेट्रोल खर्च करने की नई सीमा को मानने से पहले कई वाहन मालिक इस बात का इंतज़ार कर रहे हैं कि अक्तूबर में होने वाले चुनावों में ह्यूगो चावेज चुनाव जीतते हैं या नहीं.

संबंधित समाचार