जर्मनी ने फिर जताई ग्रीस के साथ एकजुटता

ग्रीस में मैर्केल का विरोध
Image caption एथेंस में लोगों ने मैर्केल के दौरे का विरोध किया

जर्मन चांसलर अंगेला मर्केल ने ग्रीस के प्रति जर्मनी का समर्थन दोहराया है. मर्केल तीन साल में पहली बार ग्रीस के दौरे पर गई हैं.

मर्केल ने कहा कि ग्रीस ने अपने विशाल संकट से निपटने की दिशा में 'अच्छी प्रगति' की है लेकिन ये रास्ता 'बहुत कठिनाइयों से भरा' रहा है.

इस बीच हजारों लोगों ने ग्रीस की राजधानी एथेंस में प्रदर्शन किया है. प्रदर्शनकारियों का मानना है कि जर्मनी के दबाव के कारण ही ग्रीस को कड़ी बचत योजनाओं को लागू को करना पड़ रहा है जिसकी मार आम आदमी को झेलनी पड़ रही है.

प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस और सुन्न कर देने वाले ग्रेनेड इस्तेमाल किए.

संवाददाताओं का कहना है कि सांकेतिक रूप से मर्केल की यात्रा का बहुत महत्व है. इससे यूरोजोन में ग्रीस के बने रहने को समर्थन मिला है.

'आने वाली पीढ़ियों के लिए'

बीबीसी के यूरोप संपादक गैविन हैविट का कहना है कि चूंकि ग्रीस को मिलने वाले सहायता पैकेज में सबसे ज्यादा योगदान जर्मनी ने ही किया है, इसलिए उसकी चांसलर को ग्रीस पर खर्चों में कटौती करने और वित्तीय अनुशासन कायम करने का दबाव डालने के लिए जिम्मेदार ठहराया जाता है.

मर्केल ने एथेंस पहुंच कर ग्रीक प्रधानमंत्री एंतोनिस समारास से मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद साझा प्रेस कांफ्रेंस में मैर्केल ने कहा कि ग्रीस में सुधारों की रफ्तार ने हाल में 'अच्छी खासी रफ्तार' पकड़ी है.

उन्होंने कहा, “काफी कुछ हासिल किया गया है, लेकिन अभी बहुत कुछ किया जाना बाकी है. जर्मनी और ग्रीस इस दिशा में अपना नजदीकी सहयोग जारी रखेंगे.”

उन्होंने माना कि आर्थिक संकट और कडे बचत कदमों के कारण ग्रीस में बहुत से लोगों को कष्ट उठाने पड़ रहे हैं, ये मुश्किल रास्ता जरूरी था ताकि आने वाली पीढ़ियां समृद्धि के साथ रहें.

जनता की नाराजगी

Image caption यूरोप को संकट से निकालने में मैर्केल की भूमिका बहुत अहम है

समारास ने कहा कि मर्केल के साथ उनकी बातचीत में 'खुलापन, आपसी समझ, एकजुटता, सहयोग की भावना और ये अहसास शामिल था कि हम ग्रीस, और उसके साथ यूरोप की समस्याओं को दूर कर सकते हैं.'

कर्ज में डूबे ग्रीस को इस शर्त पर सहायता मुहैया कराई जा रही है कि वो अपने यहां वित्तीय अनुशासन लागू करेगा जिसके तहत सरकारी खर्चों में भारी कटौती की जा रही है.

दूसरी तरफ मर्केल के दौरे और ग्रीक जनता की नाराजगी को देखते हुए मंगलवार को एथेंस की सड़कों पर सात हजार पुलिसकर्मी तैनात थे. पुलिस ने केंद्रीय एथेंस और मैर्केल के मोटर काफिले के रास्ते के आसपास 100 मीटर के दायरे में प्रदर्शनों पर पाबंदी लगा रखी थी.

हालांकि इस सील किए हुए इलाके से बाहर हजारों प्रदर्शनकारियों ने अपनी नाराजगी जताई.

संबंधित समाचार