दो साल के बच्चे को परोस दी व्हिस्की

 शुक्रवार, 12 अक्तूबर, 2012 को 07:34 IST तक के समाचार
बच्चे को व्हिस्की

ब्रिटेन के एक रेस्त्रां में दो साल के एक बच्चे को फलों के रस की जगह पीने के लिए व्हिस्की दे दी गई.

ये मामला ब्रिटेन के स्वांसी शहर का है जहां अपने दूसरे जन्मदिन की पार्टी के लिए इस रेस्त्रां में पहुंचे नन्हे सनी रीस ने जूस की जगह व्हिस्की पी.

जब सनी व्हिस्की का आधा गिलास खत्म कर चुका था तो उसकी मां को इस बारे में पता चला. तुरंत सनी को अस्पताल ले जाया गया जहां उसे डॉक्टरों को निगरानी में रखा गया. अब बच्चा घर पर है और ठीक हो रहा है.

ये घटना रेस्त्रां चेन फ्रैंकी एंड बेनी के एक रेस्त्रां में हुई. रेस्त्रां ने इस घटना के लिए माफ़ी मांगी है और इस बात की जांच कर रहा है कि कैसे बच्चों को पीने के लिए व्हिस्की दे दी गई.

कैसे चला पता

सनी की मां 34 वर्षीय नीना रीस का कहना है, “हम दोपहर बाद इस रेस्त्रां में गए और मैंने उसके लिए नीबू के जूस और पानी का ऑर्डर दिया था, जो उसे बहुत पसंद है.”

"मैंने उससे (बच्चे से) वो गिलास ले लिया और खुद उसे पी कर देखा. वो व्हिस्की थी. जैसे ही मैंने उसे पीया उसने मेरे गले में हल्की जलन पैदा की और मेरी छाती को गर्मी दी."

नीना रीस, बच्चे की मां

वो आगे बताती है, “वो उसका गिलास रख कर चले गए. मैंने उससे कहा कि वो उसमें से कुछ पीए क्योंकि वो कुछ नमकीन चीज खा रहा था. लेकिन हमने देखा कि जब भी वो उसे पीता को अपना मुंह अजीब सा कर लेता था.”

सनी की मां कहती हैं, “मैंने उससे वो गिलास ले लिया और खुद उसे पी कर देखा. वो व्हिस्की थी. जैसे ही मैंने उसे पीया तो उसने मेरे गले में हल्की जलन पैदा की और मेरी छाती को गर्मी दी.”

सनी ने व्हिस्की के लगभग दस सिप लिए थे जिसके बाद उस पर पूरी तरह नशा चढ़ गया था. नीना रीस बताती हैं, “मैं बहुत डर गई थी और रोने लगी. मुझे बहुत गुस्सा भी आया.” पेशे से अध्यापक नीना रीस ने रेस्त्रां की मैनेजर से इसकी शिकायत की.

नीना रीस रेस्त्रां के कर्मचारियों की प्रतिक्रिया से बहुत निराश हुई. सनी को तुरंत अस्पताल ले जाया गया.

सनी के परिवार ने व्हिस्की के बारे में पता चलने से पहले उसकी कई तस्वीरें भी खींची थीं. प्रकाशित तस्वीर उन्हीं में से एक है.

फ्रैंकी एंड बेनी के एक प्रवक्ता ने कहा, “जो कुछ भी हुआ, उसके लिए कंपनी बेहद अफसोस है. ये एक इंसानी भूल थी और हम ऐसे कदम उठा रहे हैं ताकि दोबारा ऐसा न हो.”

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.