कौन हैं फेलिक्स बॉमगार्टनर?

फेलिक्स बॉमगार्टनर

ऑस्ट्रिया के स्काई डाइवर फेलिक्स बॉमगार्टनर ने सबसे ज्यादा ऊंचाई से छलांग लगाने का विश्व रिकॉर्ड बनाकर इतिहास रच दिया है. उन्होंने आसमान में 39 किलोमीटर की ऊंचाई से एक बैलून से छलांग लगाई.

साहसी और निडर बॉमगार्टनर पेशे से हेलिकॉप्टर पायलट हैं और उन्होंने आसमान में मानवीय उड़ान की ऊंचाई को लगातार बढ़ाकर ये नया मुकाम हासिल किया है.

ऑस्ट्रिया के साल्जबुर्ग में 1969 में जन्मे बॉमगार्टन ने महज 16 वर्ष की उम्र से ही स्काई डाइविंग शुरू कर दी थी. बाद में अपने कौशल में निखार लाने के लिए उन्होंने ऑस्ट्रिया की सैन्य परिषद में हिसा लिया.

साल 1990 में उन्होंने परंपरागत स्काई डाइविंग को छोड़कर बेस जंपिंग का रास्ता अपनाया.

इसमें एक विशेष लक्ष्य पर जाकर एक पैराशूट के जरिए नीचे उतरा जाता है. ये लक्ष्य इमारत, पुल, जमीन कुछ भी हो सकते हैं.

साल 1999 में उन्होंने कुआलालंपुर की पेट्रोनास टॉवर से छलांग लगाकर एक नया रिकॉर्ड बनाया था.

एक समय में ताइपे की जुड़वाँ गगनचुंबी इमारतें दुनिया की सबसे ऊँची इमारतें थीं. साल 2007 में बॉमगार्टनर ने यहां से भी छलाँग लगाई थी.

इंग्लिश चैनल

वर्ष 2003 में बॉमगार्टनर इंग्लिश चैनल के ऊपर उड़ने वाले पहले व्यक्ति बने. कार्बन फाइबर के पंखे लगाकर उन्होंने एक जहाज से छलाँग लगा दी. इसके बाद उन्होंने कहा था, “आप बिल्कुल अकेले होते हैं, सिर्फ आप, आपके पंखे और आपकी मेहनत. मुझे बहुत पसंद है ये.”

किसी भी स्टंट को करने से पहले फेलिक्स कठिन प्रशिक्षण लेते हैं. उनके सभी प्रशिक्षण और अभियानों को रेड बुल कंपनी प्रायोजित करती है.

उनके इस अभियान की प्रायोजक भी रेड बुल कंपनी थी.

Image caption फेलिक्स बॉमगार्टनर के हर अभियान में उनके परिवार के लोग साथ रहते हैं

प्रशिक्षण के बावजूद छलांग लगाना और कूदना बहुत खतरनाक होते हैं.

न्यू मेक्सिको में जहां से उन्होंने छलाँग लगाने के लिए गुब्बारे में उड़ान भरी थी, वहां उनकी माँ को रोते हुए देखा जा सकता था.

फेलिक्स के पिता और भाई के साथ उनकी माँ भी उनके हर कारनामे देखने के लिए पहुँचती हैं.

अपने एक अभियान के बाद फेलिक्स ने बीबीसी को बताया था, “ये एक अजीब दृश्य होता है क्योंकि आपने कभी भी काला आसमान नहीं देखा होता है. और उस वक्त आपको महसूस होता है कि आपने सच में कोई बड़ी उपलब्धि हासिल कर ली है.”

संबंधित समाचार