ख़ुद को राक्षसी बताने वाली मां को 99 साल की जेल

एलिज़ाबेथ ऐस्कैलोना
Image caption एलिज़ाबेथ ऐस्कैलोना ने बच्ची की इस तरह पिटाई करने के लिए ख़ुद को 'राक्षसी' क़रार दिया है.

अमरीका की एक अदालत ने एक महिला को अपने बेटी का हाथ गोंद लगाकर दीवार से चिपका देने के बाद उसको मारते-मारते अधमरा कर देने के लिए 99 सालों के क़ैद की सज़ा सुनाई है.

समाचार एजेंसियों ने स्थानीय समाचारपत्र 'द डलास मार्निंग न्यूज़' के हवाले से कहा है कि एलिज़ाबेथ ऐस्कैलोना ने दो साल की बच्ची को इतनी बुरी तरह पीटा कि वो कोमा में चली गई.

ये मामला सितंबर 2011 का है.

'राक्षसी'

एलिज़ाबेथ ऐस्कैलोना ने अपना जुर्म क़बूल कर लिया है.

पिछले हफ़्ते उन्होंने अदालत में कहा, "मैंने उसे ठोकर मारी, मैं लगातार उसे लातों से मारती रही, मुझे उसके साथ ऐसा नहीं करना चाहिए था."

उन्होंने कहा कि मैंने जो किया वो 'कोई राक्षसी ही कर सकती थी.'

ख़बरों के मुताबिक़ बच्ची का स्वास्थ्य अब बेहतर है.

'क्रूरतापूर्ण रवैया'

समाचार एजेंसी पीटीआई ने कहा है कि एलिज़ाबेथ ने अपने व्यवहार की वजह पूछे जाने पर कहा कि वो पांच-पांच बच्चों के पालन-पोषण को लेकर बहुत दबाव में थीं.

सज़ा सुनाने से पहले न्यायधीश लैरी मिचेल ने कहा कि एलिज़ाबेथ को अपनी बेटी को इतनी क्रूरता से मारने के लिए कड़ी से कड़ी सज़ा दी जानी चाहिए.

संबंधित समाचार