गद्दाफ़ी सहयोगी मूसा इब्राहिम को पकड़ने का दावा

  • 21 अक्तूबर 2012
मूसा इब्राहिम
Image caption मूसा इब्राहिम को अंतिम बार अगस्त 2011 में त्रिपोली पर विद्रोहियों के नियंत्रण से पहले देखा गया था

लीबिया में प्रधानमंत्री कार्यालय का कहना है कि पूर्व तानाशाह शासक कर्नल मुअम्मर गद्दाफ़ी के प्रवक्ता मूसा इब्राहिम को पकड़ लिया गया है.

प्रधानमंत्री कार्यालय का कहना है कि सुरक्षाबलों ने मूसा इब्राहिम को राजधानी त्रिपोली से दक्षिण में 40 मील दूर टारहोना से पकड़ा है.

प्रधानमंत्री कार्यालय ने मूसा इब्राहिम को पकड़े जाने के दावे में समर्थन में कोई तस्वीर या वीडिया मुहैया नहीं कराया है.

प्रधानमंत्री अली ज़िडान के दफ्तर से जारी एक बयान में कहा गया है, ''मूसा इब्राहिम को सुरक्षाबलों ने टारहोना कस्बे से पकड़ा है और उन्हें पूछताछ के लिए त्रिपोली लाया जा रहा है.''

ख़बर पर संदेह

लीबिया के अन्य अधिकारियों ने मूसा इब्राहिम को पकड़े जाने के प्रति संदेह जताया है क्योंकि इससे पहले भी इस तरह खबरें आई थीं जो गलत साबित हुई थी.

तारहोना कस्बा राजधानी त्रिपोली और बनी वलीद के बीच स्थित है जो गद्दाफी के सैनिकों के अंतिम ठिकानों में से एक है.

लीबिया में पिछले साल युद्ध के दौरान मूसा इब्राहिम त्रिपोली की एक होटल में नियमित तौर पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करते थे.

उन्हें अंतिम बार अगस्त 2011 में त्रिपोली पर विद्रोहियों के नियंत्रण से पहले देखा गया था.

मूसा इब्राहिम को पकड़े जाने की खबर कर्नल गद्दाफी के मारे जाने की पहली बरसी के मौके पर आई है. कर्नल गद्दाफी एक साल पहले अपने गृहनगर सिरते के नजदीक पकड़े और मारे गए थे.

अंतरिम नेता मोहम्मद मेगरीफ का कहना है कि इस एक वर्ष में देश पूरी तरह से आजाद नहीं हो पाया है.

गद्दाफी समर्थित सेना को परास्त करने में मदद करने वाले लड़ाकू गुट देश के कई हिस्सों में ताकतवर हैं.

बनी वलीद में कुछ दिन पहले इन लड़ाकों के बीच संघर्ष भी हुआ था.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार