माया सभ्यता की 2000 वर्ष पुरानी कब्र

 सोमवार, 19 नवंबर, 2012 को 10:43 IST तक के समाचार
माया सभ्यता के समय की प्राचीन कब्र

ऐसा माना जा रहा है कि ये कब्र किसी शासक या धार्मिक गुरु की है

पश्चिमी ग्वाटेमाला के कुछ पुरातत्वविदों ने वहां 'माया सभ्यता' के समय की सबसे प्राचीन कब्र को ढूंढ निकालने का दावा किया है.

ऐसा माना जा रहा है कि ये कब्र लगभग दो हज़ार साल पुरानी है और किसी शासक या धार्मिक गुरु की है.

कब्र को देखकर ये भी अनुमान लगाया गया है कि इस व्यक्ति ने मध्य अमरीका में माया और ओलमेक सभ्यता के बीच संबंध स्थापित करने में पुल का काम किया हो.

इस कब्र की खोज करने वाले वैज्ञानिकों के अनुसार ग्वाटेमाला से 180 मील दूर दक्षिण में बसी 'तक-अलिक अब-अज' में पाई गई इस कब्र में किसी तरह की कोई हड्डी नहीं मिली क्योंकि वे टूटकर बिखर चुकीं थी.

लेकिन, उन्हें इस समाधि से कई तरह के प्राचीन आभूषण मिले,जिनमें एक गले का आभूषण भी था. इस नेकलेस में एक आदम आकृति बनी हुई थी जिसका सिर एक गिद्ध की तरह था.

ओलमेक साम्राज्य 400 ईसापूर्व के आसपास खत्म होने लग गया था. ये कब्र रेताहुलिव प्रांत में एक मंदिर के पास मिली.

"वे एक बड़े और प्रभावशाली नेता या मुखिया थे जिन्होंने मध्य अमरीका ओलमेक और माया सभ्यता के बीच खाई को पाटने का काम किया था"

मिग्वेल ऑरेगो, पुरातत्व विभाग के अधिकारी

पुरातत्व विभाग के अधिकारी मिग्वेल ऑरेगो के अनुसार कब्र की कार्बन डेटिंग से पता चलता है कि इसका निर्माण 700 से 400 ईसापूर्व के बीच किया गया था.

कब्र में मिली नेकलेस में गिद्ध की आकृति से ये भी पता चलता है कि कब्र किसी शासक या प्रभावशाली व्यक्ति की है क्योंकि ये चिह्न शारीरिक और आर्थिक संपन्नता के प्रतीक हैं जिन्हें समाज के आदरणीय लोगों को ही दिया जाता था.

प्रभावशाली व्यक्तित्व

वैज्ञानिकों ने इस कब्र में दफनाए व्यक्ति को कूत्ज़-शमन का नाम दिया है, जिसका मतलब होता है 'दादा-गिद्ध' या आसान भाषा में जिसे आदरणीय पूर्वज भी कहा जाता है.

मिग्वेल ऑरेगो के अनुसार, ''वे एक बड़े और प्रभावशाली नेता या मुखिया थे जिन्होंने मध्य अमरीका ओलमेक और माया सभ्यता के बीच की खाई को दूर किया था.''

समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने कुछ इतिहासकारों के हवाले से कहा है कि हो सकता है कि संबंधित व्यक्ति का माया सभ्यता के प्रचार, प्रसार और उसे और ज्य़ादा समृद्ध करने में काफी योगदान हो.

ये भी मुमकिन है कि इसी व्यक्ति ने माया सभ्यता के दौरान पिरामिड और शाही परिवारों के सदस्यों की मूर्तियों को बनवाने का काम किया हो.

इसी स्थान पर काम कर रहीं एक और पुरातत्वविद क्रिस्टा शाईबर के अनुसार जिस समय ओलमेक सभ्यता 400 ईसापूर्व के आस-पास खत्म हो रही था, ठीक उसी समय माया सभ्यता का विकास हो रहा था.

माया सभ्यता ने 250 से 800 ईसवी तक मध्य अमरीका पर राज किया था. उनका साम्राज्य आधुनिक होंडुरास से मध्य मेक्सिको तक फैला हुआ था.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.