लादेन को मारने वालों पर पड़ी वीडियो गेम की मार

Image caption पाकिस्तान के ऐबटाबाद में ओसामा बिन लादेन के खिलाफ कार्रवाई करते सील कमांडो.

चरमपंथी संगठन अल कायदा के नेता ओसामा बिन लादेन को मारने वाली यूएस नेवी सील्स के सात सदस्यों को ऑपरेशन से जुड़ी जानकारी एक वीडियो गेम के लिए देना भारी पड़ गया है.

अधिकारियों का कहना है कि गोपनीय जानकारी साझा करने के लिए उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जा रही है.

बताया जाता है कि इनमें एक सैनिक वो भी है जो ओसामा बिन लादेन को वर्ष 2011 में मारने वाली टीम में शामिल थे.

जिस वीडियो गेम का यहां जिक्र किया जा रहा है, उसे इलेक्ट्रॉनिक आर्ट्स ने जारी किया है. इस गेम का घटनाक्रम, ओसामा के खिलाफ की गई छापामार कार्रवाई से मेल खाता है.

यूएस नेवी सील्स के जिन जवानों को दंडित किया गया है, उनमें दो सीनियर चीफ स्पेशल ऑपरेटर और पांच चीफ स्पेशल ऑपरेटर शामिल हैं.

उन पर आदेशों की अवहेलना, ड्यूटी में कोताही बरतने और गोपनीय जानकारी साझा करने का आरोप है.

सीबीएस न्यूज़ के मुताबिक, इन सैनिकों ने इस वीडियो गेम के लिए दो दिन काम किया था.

वीडियो गेम निर्माता का दावा

Image caption अभी ये पता नहीं चल पाया है कि यूएस सील्स कमांडो ने किस तरह की जानकारी लीक की है.

वीडियो गेम के निर्माता ने डींग हांकी थी कि इस गेम को तैयार करने में ड्यूटी पर तैनात और सेवानिवृत्त दोनों ही तरह के कमांडो ने मदद की थी ताकि इसी हकीकत के ज्यादा से ज्यादा करीब लाया जा सके.

हालांकि ये पता नहीं चल पाया है कि इलेक्ट्रॉनिक आर्ट्स को किस तरह की गोपनीय जानकारी दी गई थी.

यूएस नेवी के एक वरिष्ठ अधिकारी रियर एडमिरल गैरी बोनेली ने समाचार एजेंसी एपी को बताया, ''हम ये बर्दाश्त नहीं करते कि कोई कमांडो हमारी नीतियों की अवहेलना करे.''

उनका कहना है कि अनुशासनात्म कार्रवाई से अमरीकी सुरक्षा बलों में स्पष्ट संदेश जाएंगा कि हमारे यहां जिम्मेदारी तय की जाती है.

अन्य खबरों में कहा गया है कि नेवी सील्स के चार अन्य कमांडों की भी जांच-पड़ताल की जा रही है.

संबंधित समाचार