इंदिरा नुई को बराक ओबामा का बुलावा

इंदिरा नुई पेप्सिको की पहली महिला प्रमुख हैं.
इमेज कैप्शन,

इंदिरा नुई पेप्सिको की पहली महिला प्रमुख हैं.

अमरीका में मंदी के दौर से निपटने और आर्थिक रणनीति तय करने के लिए राष्ट्रपति बराक ओबामा ने पेप्सिको की सीईओ इंदिरा नुई सहित भारतीय मूल के दो अन्य लोग को चर्चा के लिए आमंत्रित किया है.

अमरीका के राष्ट्रपति पद पर दोबारा चुने जाने के बाद बराक ओबामा का मकसद है व्यापार, नागरिक समाज और श्रमजीवी वर्ग से जुड़े लोगों को आर्थिक संकट के मुद्दे पर एकजुट करना और अपने आगे की रणनीति तैयार करना.

इसके चलते कुछ खास लोगों और व्यापार जगत के प्रतिनिधियों को चर्चा के लिए आमंत्रित किया है. इनमें इंदिरा नुई के अलावा वॉशिंगटन स्थित थिंक-टैंक ‘सेंटर फॉर अमेरिकन प्रोग्रेस’ की अध्यक्ष नीरा टंडन और अमरीका स्थित सेंटर फॉर कम्युनिटी चेंज से जुड़े दीपक भार्गव शामिल होंगे.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक अमरीकी अर्थव्यवस्था में सुधार और उसे मंदी से उबारने के लिए आगे की रणनीति तय करना राष्ट्रपति ओबामा की प्राथमिकताओं में से एक हैं. इस मुद्दे पर समाज के अलग-अलग पक्षों को साथ लाने के नज़रिए से ओबामा अगले हफ्ते इन नेताओं से मुलाकात करेंगे.

व्यापार जगत के प्रतिनिधियों से मुलाकात

इस बैठक में राष्ट्रपति ओबामा के अलावा, उपराष्ट्रपति और अन्य प्रमुख अधिकारी भी शामिल होंगे.

व्हाइट हाउस से जारी एक वक्तव्य के मुताबिक, ''बैठक का मकसद उस कार्य प्रणाली को तय करना है जिसके ज़रिए अर्थव्यवस्था को विकसित किया जा सके और आर्थिक घाटे को कम करने की रणनीति तैयार हो.''

कार्यक्रम के तहत बुधवार को अमरीकी राष्ट्रपति अमरीका की प्रमुख कंपनियों के मालिकों और सीईओ से भी मिलेंगे.

जिन अन्य कंपनियों के प्रतिनिधियों को निमंत्रण भेजा गया है उनमें, 'अमेरिकन एक्सप्रेस कंपनी' के सीईओ और अध्यक्ष शेनॉल्ट, 'हनीवैल' के अध्यक्ष और सीईओ डेविड कोट सहित 'वॉलमार्ट' के सीईओ माइक ड्यूक शामिल हैं.

इंदिरा नुई पेप्सिको की पहली महिला प्रमुख हैं.

भारत के चेन्नई शहर में जन्मी 50 वर्षीय इंदिरा नुई कंपनी की मुख्य कार्यकारी अधिकारी का पद अक्तूबर में संभालेंगी.

वे अमरीका की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी की महिला प्रमुख हैं. भारतीय मूल की इंदिरा नुई इससे पहले पेप्सिको की मुख्य वित्तीय सलाहकार थीं. उन्होंने येल स्कूल ऑफ़ मैनेजमेंट से स्नातकोत्तर की डिग्री ली है.