गज़ा पर इसराइली युद्धपोतों से बमबारी

 रविवार, 18 नवंबर, 2012 को 12:46 IST तक के समाचार
गज़ा पर हमले जारी

मिस्र के नेता संघर्षविराम के लिए कोशिश कर रहे हैं

गज़ा पट्टी में पांचवें दिन भी इसराइल की बमबारी जारी है. युद्धपोतों से हवाई हमले हो रहे हैं और गोले दागे जा रहे हैं जिससे पूरे गजा सिटी शहर में कई धमाके हुए हैं.

फलस्तीन के चिकित्सा अधिकारियों ने बताया कि एक हमले में एक ही परिवार के दो शिशु मारे गए हैं. एक अन्य हमले में उस इमारत को निशाना बनाया गया है जिसमें कई स्थानीय मीडिया संगठनों के दफ्तर हैं. इसमें पांच फलस्तीनी पत्रकार घायल हो गए हैं.

इसराइल का कहना है कि वो अभी गजा में और सैकड़ों लक्ष्यों को निशाना बनाना चाहता है ताकि हमास और अन्य चरमपंथी गुटों को इसराइली क्षेत्र में रॉकेट दागने से रोक सके.

दूसरी तरफ, इसराइली सेना ने कहा है कि स्थानीय समय के अनुसार मध्यरात्रि से इसराइली क्षेत्र में कोई फलस्तीनी रॉकेट या मोर्टार नहीं दागा गया है.

सेना के अनुसार इससे पहले चार दिनों के दौरान गज़ा से इसराइल की तरफ लगभग पांच सौ रॉकेट दागे गए हैं, जबकि ढाई सौ अन्य रॉकेटों को मार गिराया गया.

संघर्षविराम की कोशिशें

अधिकारियों का कहना है कि गज़ा में बुधवार से बमबारी में 48 लोग मारे गए हैं. फलस्तीनी रॉकेट हमलों में भी तीन इसराइलियों के मारे जाने की खबर है.

इस बीच मिस्र के राष्ट्रपति मोहम्मद मुर्सी ने काहिरा में तुर्की के प्रधानमंत्री रचैप तयैप एर्दोआन के बातचीत के बाद कहा है कि इसराइल और गज़ा के फलस्तीनियों के बीच जल्द संघर्षविराम होने के संकेत मिले हैं.

हमास नेता खालिद मेशाल भी बातचीत के लिए काहिरा में हैं ताकि तनाव को कम किया जा सके. एर्दोआन ने कहा है कि दोनों पक्षों से व्यापक संपर्क हो रहा है, लेकिन अभी वो कोई गारंटी नहीं दे सकते हैं.

गज़ा में हमले

इन हमलों में अब तक लगभग 50 फलस्तीनी मारे गए हैं

वहीं इसराइल ने इस बात से इनकार किया है कि उसने मिस्र से बातचीत के लिए अपने अधिकारी काहिरा में भेजे हैं.

मिस्र की चेतावनी

मुर्सी ने इसराइल को चेतावनी दी है कि वो गज़ा में जमीनी कार्रवाई न करे.

इसराइल ने अपने आरक्षित 75 हजार सैनिकों को तैयार रखा है. एक मंत्री के हवाले से ये भी कहा गया है कि अगर इसराइल में होने वाले रॉकेट हमले नहीं रुके, तो रविवार को गजा में जमीनी कार्रवाई शुरू हो सकती है.

इस बीच अरब लीग ने कहा है कि वो मध्यस्थता की मिस्र की कोशिशों का समर्थन करती है. अरब लीग अगले कुछ दिनों में अपना एक प्रतिनिधिमंडल गज़ा भेजने की योजना बना रहा है.

बीते बुधवार को इसराइल के हवाई हमलों में हमास की सैन्य शाखा के प्रमुख की मौत के बाद दोनों पक्षों में संघर्ष तेज हो गया है.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.