पुलिसवालों के चश्मे में कैमरा

किसी भी अपराध को सुलझाने के लिए पुलिस अकसर इन दिनों कैमरों में दर्ज सीसीटीवी फुटेज का सहारा लेती है.

पर सोचिए अगर पुलिसकर्मी खुद ही कैमरा लगाकर घूमें वो भी अपने चश्मे, हेलमेट या हैट में छिपाकर तो क्या होगा?

अमरीका में यूटा राज्य में ऐसा ही करने का प्रस्ताव है. ऐसे कैमरों की मदद से पुलिस आसानी से उन जगहों का फुटेज रिकॉर्ड कर सकती है जहाँ अपराध हुआ है.

अमरीका में यूटा प्रांत के सॉल्ट लेक सिटी के पुलिस प्रमुख ने ऐसे कैमरे इस्तेमाल करने की मंशा ज़ाहिर की है.

इस तकनीक का समर्थन करने वालों का कहना है कि ये कैमरे इस तरह से बने होते हैं कि इनके फुटेज को एडिट करना पुलिसकर्मियों के लिए संभव नहीं है और इससे जाँच में पारदर्शिता आएगी. फर्ज़ी शिकायतें दर्ज कराने के मामलों की पड़ताल में भी आसानी होगी.

निजता का उल्लंघन?

साथ ही साथ पुलिसवालों के बर्ताव को लेकर आने वाली शिकायतों के निपटारे में भी ये कैमरा सहायक हो सकता है क्योंकि सारी बातचीत पुलिसकर्मियों के चश्मे या हेलमेट में लगे कैमरे में कैद हो जाएगी.

बताया गया है कि ब्रिटेन, न्यूज़ीलैंड और ऑस्ट्रेलिया में भी ऐसा परिक्षण चल रहा है.ब्रिटेन में एबरडीन में 2010 के बाद से ही पुलिसकर्मियों के हेलमट में कैमरा लगा रहता है. लंदन के कुछ इलाकों में भी मेट्रोपोलिटन पुलिस ने ऐसा कैमरा लिया है.

हालांकि पुलिसकर्मियों के इन कैमरों को लेकर निजता के संबंध में चिंता जताई है. बिग ब्रदर वाच कैंपन के निदेशक निक पिकल्स भी इसे लेकर चिंतित हैं.

वे कहते हैं, “ब्रिटेन में ऐसा कैमरा इस्तेमाल हो रहा है. ये दुखद बात है कि यहाँ अधिकारी हर नागरिक को संदिग्ध की तरह देखते हैं. ऐसी कौन सी समस्या है जिसे सुलझाने के लिए पुलिसकर्मियों को ऐसे कैमरों का इस्तेमाल करना पड़ रहा है? ये तकनीक एकतरफा है. सोचिए पुलिस अधिकारियों को कैसा लगेगा अगर नागरिक नियमति रूप से उन्हें अपने कैमरों में कैद करने लगें?”

संबंधित समाचार