पाकिस्तान में ज़हरीली दवा से 16 लोगों की मौत

  • 26 नवंबर 2012
दवाई
Image caption पाकिस्तान में इससे पहले जनवरी महीने में भी खराब दवा के कारण 100 लोगों की मौत हुई थी.

पाकिस्तान के लाहौर में ज़हरीली दवाई पीने के कारण 16 लोगों की मौत हो गई है.

पुलिस का कहना है सर्दी जुख़ाम में पी जाने वाली दवाई ज़हरीली हो चुकी थी जिसे पीने के बाद 16 लोग मारे गए हैं.

इस दवा को बनाने वाली फैक्ट्री को सील कर दिया गया है और तीन लोगों की गिरफ्तारी हुई है जिसमें दवा के वितरक भी शामिल हैं.

यह घटना लाहौर के शाहदरा इलाके में शुक्रवार और शनिवार को हुई है लेकिन पुलिस को सोमवार को ही इन मौतों की जानकारी मिली.

पुलिस का कहना है कि सर्दी जुखाम में सेवन की जाने वाली इस दवा को लोग बड़ी मात्रा में नशा करने के लिए भी पीते हैं.

स्थानीय पुलिस प्रमुख आतिफ ज़ुल्फिकार ने संवाद समिति एएफपी को बताया, ‘‘ मारे गए कुछ लोग कब्रगाह के पास मिले हैं और इस जगह का इस्तेमाल नशेड़ी लोग नशा करने के लिए करते हैं.’’

पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री ने जांच की घोषणा की है और 72 घंटों में रिपोर्ट देने को कहा है.

प्रांत के स्वास्थ्य अधिकारियों ने कई दुकानों पर छापे मारे हैं और इस दवा की बोतलें जब्त कर ली हैं.

इस दवा के कई नमूने जांच के लिए भी भेजे गए हैं. डॉक्टरों के अनुसार मरने वालों ने संभवत इस दवा में कुछ और भी मिलाया था ताकि उन्हें तेज़ नशा हो सके.

इससे पहले जनवरी महीने में भी दिल की एक दूषित दवा के कारण लाहौर में 100 लोगों की मौत हो गई थी.

यह दवा सरकारी अस्पताल में डॉक्टरों ने दिल के मरीज़ों को दी थी.

इस्लामाबाद में बीबीसी संवाददाता ओरला गुरियन का कहना है कि पाकिस्तान में खराब गुणवत्ता वाली दवाएं एक आम समस्या है.

संबंधित समाचार