रॉन्ग नंबर से डायल हुआ जीवन का सही नंबर

  • 12 दिसंबर 2012
शादी
Image caption एलिजाबेथ और ब्रायन की मुलाकात महज इत्तेफाक थी, लेकिन वो एक-दूसरे के बेहद करीब आ गए

नौ साल पहले एक व्यक्ति ने कहीं फ़ोन किया. ग़लती से नंबर कहीं और लग गया और दूसरी तरफ़ से एक महिला ने फ़ोन उठाया.

फ़ोन पर ग़लती से हुई इस बातचीत ने धीरे-धीरे दोनों को इतना करीब ला दिया कि आखिरकार उन्होंने एक-दूसरे का साथ हमेशा निभाने का फ़ैसला कर लिया, यानी शादी कर ली.

ये कोई काल्पनिक कहानी नहीं है, बल्कि ब्रिटेन में नॉरफॉक के सेंट पीटर्स चर्च में एलिजाबेथ बेनेट और ब्रायन वुडवर्ड ने शादी करके इस कहानी को अमली जामा पहनाया.

शादी के बाद एलिज़ाबेथ ने कहा कि जब फोन पर ब्रायन से उनकी पहली बार बात हुई थी तो वो बहुत ही अक्खड़ मालूम पड़ रहा था, लेकिन अगले ही दिन उसने दोबारा फोन करके अपने बर्ताव पर माफी मांग ली थी.

उन्होंने कहा, “कुछ हफ्तों के बाद हमारी थेटफोर्ड रेलवे स्टेशन पर मुलाकात हुई और उसके बाद से फिर हम कभी एक दूसरे से दूर नहीं हुए.”

प्रस्ताव

25 वर्षीया बेनेट का कहना था कि उसके 26 वर्षीय पति ने पहली बार फोन पर जिस तरह से बात की थी, उससे खराब तरीका और कुछ नहीं हो सकता था और मेरी समझ में कुछ नहीं आ रहा था कि ये क्या हो रहा है.

वो कहती हैं, “ब्रायन ने चार साल पहले मेरे 21 वें जन्मदिन के ठीक एक दिन बाद अचानक शादी का प्रस्ताव रख दिया”

बेनेट बताती हैं कि उनकी शादी बहुत ही अच्छे तरीके से हो गई और मौसम भी बहुत ही सुहावना था.

शादी में मौजूद बेनेट की चार सहेलियों में से एक हैना हैमिल्टन का कहना था कि उस दिन दोनों ही बहुत खुश और प्यार से लबरेज थे.

नॉरफॉक के मुंडफोर्ड शहर में रहने वाले बेनेट और वुडवर्ड नए साल में हनीमून पर जाने की तैयारी कर रहे हैं.

संबंधित समाचार